प्रदूषण:वीरवार रात 10 बजे के बाद खराब होती गई हवा, एक्यूआई 208 से 306 के पार

पटियालाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दिवाली पर हमने कम पटाखे जलाए, 2020 के मुकाबले 27.8% प्रदूषण कम

प्रशासन की सख्ती कहें या फिर लाेगाें में पाॅल्यूशन के प्रति आई जागरुकता, पिछले साल की तुलना में इस साल दिवाली पर लाेगाें ने कम पटाखे जलाए। इस कारण 27.8 प्रतिशत पाॅल्यूशन में कमी दर्ज की गई। ये दावा हम नहीं बल्कि पीपीसीबी से मिले आंकड़े बता रहे हैं। पिछले साल औसत एक्यूआई 328 था, जाे इस साल 268 रहा। यह अच्छा राहत देने वाला संकेत है। जिले में पराली जलने के मामलों में तेजी आई है, 4 नवंबर काे 170 ताे 5 काे 335 जगह पर पराली जली।

5 दिन में जिले का एयर क्वाॅलिटी 70 अंक बढ़ा रहा। वीरवार रात 10 बजे पटियाला की हवा की गुणवत्ता 208 थी। उसके बाद हवा की गुणवत्ता हर घंटे पर खराब हाेती गई। शुक्रवार आधी रात 1 बजे 228, सुबह 8 बजे 252, दाेपहर बाद 1 बजे 278 शुक्रवार शाम 6 बजे 301 यानी खतरनाक स्थिति में पहुंच गई थी। पीपीसीबी इंजी करुणेश गर्ग ने कहा कि इस साल पाबंदी का असर देखने काे मिला है, पिछले साल की तुलना इस साल जिले में 18.3 प्रतिशत गिरावट आना अच्छे संकेत हैं।

खबरें और भी हैं...