निर्देश:बंदी सिंहों की रिहाई के लिए पंथक जत्थेबंदियों का इकट्ठ आज : धामी

आनंदपुर साहिब2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

11 मई को तेजा सिंह समुंदरी हाल में विशाल इकट्ठ किया जाएगा, जिसमें बंदी सिंहों की रिहाई के लिए संघर्ष आरंभ किया जाएगा। इस बात का उल्लेख शिरोमणि कमेटी के अध्यक्ष भाई हरजिंदर सिंह धामी ने पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान किया। श्री आनंदपुर साहिब में उन्होंने कहा कि शिरोमणि कमेटी शुरू से ही जेलों में बंद सिंहों की रिहाई के लिए सुहिरद रही है।

भाई दविंदरपाल सिंह भुल्लर, भाई बलवंत सिंह राजोआणा समेत जेलों में बंद सिंहों के लिए शुरू से ही कार्य करते रहे हैं। इसी तहत शिरोमणि कमेटी द्वारा करोड़ों रुपए कानूनी कार्रवाई के लिए और माइक सहायता के लिए खर्चे गए हैं। इस संबंध में 11 मई को विशेष पंथक इकट्ठ किया जा रहा है।

इसमें कई सालों से जेलों में बंद सिंहों की रिहाई के लिए शिरोमणि कमेटी द्वारा समूह जत्थेबंदियों के सहयोग के साथ विचार चर्चा करके अगले संघर्ष के लिए सहयोग दिया जाएगा। एक सवाल के जवाब में भाई धामी ने बताया कि शिरोमणि कमेटी ने अपना चेनल चलाने के लिए 5 मेंबरी कमेटी बनाई है जो जल्द ही अपनी रिपोर्ट पेश करेगी और फिर अपना चेनल आरंभ कर दिया जाएगा।

कमेटी अध्यक्ष ने कहा कि सिखों की संख्या दिन प्रति दिन कम हो रही है। इसका सीधा कारण है कि एक या दो बच्चे पैदा करने की रिवायत को पंजाबियों व खास करके सिंहों ने इसको मान लिया। उन्होंने कहा कि इस संदर्भ में पूर्व जत्थेदार गुरबचन सिंह ने सिंहों को 4 बच्चे पैदा करने की अपील की थी और सिखों को इस अपील को मान लेना चाहिए।

खबरें और भी हैं...