महापंचायत:संघर्ष कमेटी ने कहा- डी-सिल्टिंग के नाम पर सतलुज में नहीं होने देंगे माइनिंग, दरिया में सिल्ट है ही नहीं

नंगल14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इलाका संघर्ष कमेटी द्वारा लोअर दड़ौली में की गई मीटिंग। - Dainik Bhaskar
इलाका संघर्ष कमेटी द्वारा लोअर दड़ौली में की गई मीटिंग।

गांव लोअर दड़ौली में डी-सिलटिंग के नाम पर होने वाली माइनिंग को रोकने के लिए इलाका संघर्ष कमेटी ने मीटिंग की। मीटिंग को महापंचायत का नाम दिया गया। इस दौरान इलाका संघर्ष कमेटी के मेंबरों, गांव के लोगों समेत कुछ सरपंचों ने भाग लिया। इस दौरान डी-सिल्टिंग के नाम पर होने वाली माइनिंग से होने वाले नुकसान के बारे में लोगों को जागरूक किया और सतलुज दरिया में माइनिंग न होने देने के लिए जागरूक किया।

इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि सभी गांव अपनी जमीनें बचाने के लिए इलाका संघर्ष कमेटी का सहयोग करें। किसी भी कीमत पर सतलुज दरिया में माइनिंग न होने दें। सरकार माइनिंग माफिया को दरिया में डी-सिल्टिंग के नाम पर माइनिंग करने की छूट दे रही है। एेसा हुआ तो इलाके की किसानी बर्बाद हो जाएगी। दरिया में किसी किस्म की सिल्ट नहीं है।

इलाके में डी-सिल्टिंग के नाम पर अवैध माइनिंग चल रही है। वक्ताओं ने कहा िक विधानसभा चुनाव से पहले सत्ता पक्ष के नेता और हलके के विधायक माइनिंग का विरोध करते थे। लेकिन अब कोई भी इलाके के लोगों की बात नहीं सुन रहा। जबकि हलके का विधायक इस विभाग में मंत्री है। इस संबंध में कैबिनेट मंत्री हरजोत सिंह बैंस से संपर्क करने के लिए फोन किया तो संपर्क नहीं हो पाया।

इसके बारे में इलाका संघर्ष कमेटी के सदस्य एडवोकेट विशाल सैनी ने कहा कि लोअर दड़ौली में जो माइनिंग के खिलाफ समागम किया गया। वह इलाका संघर्ष कमेटी के बैनर तले किया गया। इसे महापंचायत का नाम दिया गया। इलाका संघर्ष कमेटी भविष्य में गांव गांव जाकर लोगों को डी-सिलटिंग के नाम पर होने वाली माइनिंग को रोकने के लिए जागरूक करेगी।

इस मौके इलाका संघर्ष कमेटी के अध्यक्ष हरदेव सिंह, टिक्का जसवीर सिंह भलाण, एडवोकेट विशाल सैनी, कामरेड सुरजीत सिंह ढेर, सरबण सिंह दड़ौली, जसपाल सिंह फौजी, मोती लाल, रघुवीर दरशी, हरी चंद गौहलणी, दविंदर नंगली, सुखदेव सिंह नंगल, मनोहर लाल सरपंच, डाॅ. अच्छर शर्मा, प्रवेश सोनी, डाॅ. रविंदर दिवान, विनोद भट्टी, नितिन नंदा ने लोगों को माइनिंग विरुध जागरूक किया। इस मौके जत्थेदार मोहन सिंह ढाहे, सरपंच हरपाल सिंह भल्लड़ी, सरबण सिंह कलितरां, अवतार चंद, गुरबख्श सिंह, चरनजीत सिंह, दर्शन सिंह कलितरां उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...