रोष प्रदर्शन:पंचायती व सरकारी जमीनों को कब्जाधारकाें से छुड़वाने का किसानों ने किया विरोध

रोपड़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पंचायती और सरकारी जमीनों पर कब्जाधारों  से छुड़ाने  के विरोध में एकत्रित हुए लोग। - Dainik Bhaskar
पंचायती और सरकारी जमीनों पर कब्जाधारों  से छुड़ाने  के विरोध में एकत्रित हुए लोग।
  • इलाका संघर्ष समिति लोदीमाजरा ने किया विरोध, जून को रोपड़ में होगा रोष प्रदर्शन

इलाका संघर्ष कमेटी लोदीमाजरा घनौली की तरफ से गांव बहादरपुर में पंजाब सरकार की तरफ से पंचायती जमीनों और सरकारी जमीनों को धक्के के साथ कब्जाधारकाें से छुड़ाने के लिए शुरू की गई मुहिम काे लेकर मीटिंग की गई। इलाका संघर्ष कमेटी लोदीमाजरा घनौली के अध्यक्ष निर्मल सिंह लोदीमाजरा, महासचिव ज्ञान सिंह घनौली और मोहण सिंह बहादरपुर ने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से जहां धक्के से काबिज लोगों से पंचायती और सरकारी जमीनें छुड़ाई जा रही हैं।

उन्होंने कहा कि यह सरेआम पंजाब सरकार की धक्केशाही भारतीय संविधान 26 जनवरी 1950 से पहले काबिज और काश्तकार लोगों पर किसानों से जमीन छीननी भारतीय संविधान की तौहीन है। यह नादिरशाही फरमान गरीब किसानों को गरीबी रेखा में धकेल रही है।

जो किसान छोटी छोटी जमीनों पर गुजारा करते हैं। मान सरकार से मांग की है कि आबादकारों से जमीनें छुड़ाने की बजाय बड़े-बड़े मगरमच्छों से जमीनें छुड़ाई जाएं। जिन्होंने सरकारी व पंचायती जमीनों पर धक्के से कब्जा किया हुआ है।

उन्होंने कहा कि इस सरकारी धक्केशाही से काश्तकार अबादकार किसानों को उजाड़ने के खिलाफ 7 जून को रोपड़ में प्रदर्शन किया जाएगा। इस मौके पर अध्यक्ष निर्मल सिंह लोदीमाजरा, ज्ञान घनौली, जसवंत सिंह, रामलोक सिंह, जगतार सिंह व मदन सिंह मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...