लंपी स्किन:24 घंटे में 137 पशुओं ने दम तोड़ा, भैंसों में भी बीमारी की आशंका से बढ़ी चिंता

संगरूर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में अब तक 669 पशुओं की मौत, 4161 हुए संक्रमित

लंपी स्किन बीमारी पशुओं में कहर बनकर टूट रही है। चौंकाने वाली बात यह है कि पशुओं में तेजी से फैलने वाली इस बीमारी के इलाज के लिए अभी तक कोई टीका भी तैयार नहीं हो पाया है, जिस कारण दिन-प्रतिदिन बीमारी से पीड़ित मृत पशुओं की संख्या में बढ़ाेतरी हो रही है। बुधवार को सबसे अधिक एक ही दिन में 137 पशुओं ने लंपी स्किन बीमारी से दम तोड़ दिया है। 353 पशुओं में बीमारी के लक्ष्ण पाए गए हैं।

इससे पहले 15 अगस्त को एक ही दिन में सबसे अधिक 97 पशुओं की मौत हुई थी। अब तक 669 पशुओं की मौत हो चुकी है। 4161 में बीमारी के लक्ष्ण पाए गए हैं। पिछले तीन दिनों में ही संगरूर में 276 पशुओं की मौत हो गई है। विभाग की मानें तो बीमारी पहले गायों तक ही सीमित थी, परंतु अब बीमारी भैसों में भी आने का खतरा हो गया है। ऐसे में विभाग अब भैसों में बीमारी के लक्ष्ण देखने के लिए सर्वे शुरू करने जा रहा है। यदि विभाग की आशंका के अनुसार बीमारी ने भैसों को अपनी चपेट में ले लिया तो पंजाब समेत संगरूर में पशुओं को बचाना तो मुश्किल होगा ही, बल्कि दूध की कमी भी हो सकती है, क्योंकि सबसे अधिक भैंस के दूध की खपत होती है।

खबरें और भी हैं...