मार्च:पुरानी पेंशन प्राप्ति फ्रंट 9 को वित्त मंत्री के निवास की तरफ करेगा मार्च

संगरूरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी ने पुरानी पेंशन प्रणाली बहाल करने के बड़े वादे व ऐलान किए थे

पुरानी पेंशन प्राप्ति फ्रंट की ओर से एक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक के दाैरान 9 जुलाई को संगरूर में वित्त मंत्री हरपाल चीमा की रिहायश की तरफ निकाले जाने वाले वादा याद दिलाउं मार्च की तैयारियां और विचार-विमर्श किया गया। इस मौके पर राज्य कन्वीनर अतिंरदरपाल सिंह ने कहा कि पंजाब सरकार ने बजट सेशन में पुरानी पेंशन स्कीम लागू करने का कोई प्रस्ताव न लाकर एनपीएस मुलाजिमों को बड़ा झटका दिया है, जबकि विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी ने पुरानी पेंशन प्रणाली बहाल करने के बड़े वादे व ऐलान किए थे।

मौजूदा वित्त मंत्री हरपाल चीमा ने एनपीएस मुलाजिमों के संघर्ष में शामिल होकर और मुख्यमंत्री भगवंत मान ने सरकार बनने पर पहल के आधार पर पुरानी पेंशन स्कीम लागू करने के जनतक ऐलान किए थे। जसवीर भम्मा व गुरबिंदर खैहरा ने कहा कि मुलाजिमों ने आम आदमी पार्टी के वादों से उम्मीद जगाकर आप को सत्ता तक पहुंचाने में महत्वपूर्ण रोल अदा किया, परंतु सरकार बनने के चार माह बाद भी पुरानी पेंशन स्कीम व अन्य चुनावी वादों को पूरा न करने के कारण सरकार का दोगला किरदार लोगों के सामने आ रहा है। इस मौके पर सतपाल समानवी, जसविंदर औजला, विक्रमदेव सिंह, रमन सिंगला, सुखजिंदर सिंह, सुखविंदर गिर, मनोज लहरा, परमिंदर मानसा, हरिंदर सिंह, ज्ञान सिंह, निर्मल बरनाला, गुरमुख, बेअंत सिंह, मेघराज, लखविंदर सिंह आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...