• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Sangrur
  • The Protesters Stopped The School Bus, Quarreled With The Residents Of The Colony, Tried To Forcefully Take The Route, Then The Police Stopped

परेशानी:प्रदर्शनकारियों ने स्कूल बस को रोका, कॉलोनी वासियों से तकरार, जबरी रास्ता लेने का प्रयास किया तो पुलिस ने रोका

संगरूर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नौकरी बहाली को लेकर सीएम निवास के नजदीक पक्के धरने पर बैठे सदस्य बने लोगों के लिए परेशानी

नौकरी पर बहाली की मांग को लेकर 4 मई से सीएम भगवंत मान निवास के नजदीक पक्के धरने पर बैठी कांट्रेक्ट मेडिकल इंप्लाइज ज्वाइंट कमेटी कोविड-19 पंजाब की सदस्यों और कॉलोनी निवासियों की रास्ते को लेकर तकरार देखने को मिली। यूनियन की 4 सदस्य सोमवार को कॉलोनी के मुख्य गेट पर मरणव्रत पर बैठ गईं। ऐसे में पुलिस ने उनके आगे बैरिकेड लगाकर रास्ता रोक दिया। दोपहर करीब 1 बजे स्कूली बच्चों को लेकर कॉलोनी पहुंची बस को यूनियन सदस्यों ने जाने के लिए रास्ता नहीं दिया।

कॉलोनी निवासी मनदीप सिंह ने बस को रास्ता देने की अपील की परंतु रास्ता न मिलने पर दोनों पक्षों में तकरार शुरू हो गई। मनदीप सिंह ने जब्री अपनी गाड़ी आगे बढ़ाने का प्रयास किया तो पुलिस ने रोक दिया। इसी दौरान यूनियन की दो सदस्यों की सेहत बिगड़ गई। इससे एक सदस्य सतिन्द्र कौर को अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा। गुस्साई बाकी सदस्यों ने कॉलोनी के बाहर संगरूर-पटियाला रोड पर धरना देकर यातायात ठप कर दिया। यूनियन नेता संदीप कौर, चरणजीत कौर और रमनदीप कौर ने कहा कि यूनियन सदस्य पिछले 12 दिनों से सीएम निवास के नजदीक धरने पर बैठे हैं परंतु किसी ने सुनवाई नहीं की। यूनियन नेता संदीप कौर ने बताया कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए उन्हें जून 2020-21 में सरकारी मेडिकल अस्पताल पटियाला में नियुक्त किया गया था। उन्होंने आरोप लगाया कि जब मिशन फतेह कर लिया गया तो कर्मचारियों को 30 सितंबर 2021 को सेवाओं से मुक्त कर दिया गया।

खबरें और भी हैं...