हत्या का केस:ससुराल गए पति को पत्नी ने रिश्तेदारों के साथ मिलकर जहरीली गोलियां दी, मौत

संगरूर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • भाई का आरोप-जहर खिलाने के बाद मारपीट कर घर से बाहर फेंका

पत्नी और बच्चों से मिलने ससुराल गए पति को पत्नी ने अपने रिश्तेदारों के साथ मिलकर जहरीली गोलियां देकर मौत के घाट उतार दिया। मृतक के भाई का आरोप है कि पत्नी की पति से तकरार रहती थी। पत्नी 3 साल से मायके घर रह रही थी। मृतक पत्नी को घर लाना चाहता था जबकि पत्नी तलाक मांग रही थी। रमदासपुरा ढिब्बी निवासी समुन्द्र सिंह ने पुलिस को बताया है कि वह पांच भाई-बहन हैं। सभी की शादी हो चुकी है। उसका एक भाई जगतार सिंह गांव जखेपल में रहता है। जगतार सिंह की शादी करीब 13 वर्ष पहले गांव तरंजीखेड़ा की किरणपाल कौर से हुई थी। उनके दो बच्चे हैं।

बड़ा बेटा यौवनप्रीत सिंह (12) और बेटी लवनीनप्रीत कौर (9) है। जगतार सिंह की किरणपाल कौर के साथ शुरू से कम बनती थी।े 3 वर्षों से किरणपाल कौर बच्चों समेत मायके में रह रही थी। 5 मई को उसका भाई जगतार सिंह बच्चों को मिलने तरंजीखेड़ा चला गया। जगतार सिंह ने रात सवा 9 बजे उसे व्हाट्सप पर वायस मैसेज भेज कर बताया कि उसे किरणपाल कौर, साले गुरप्रीत सिंह, रघु सिंह और गुरदास सिंह ने गेहूं में डालने वाली जहरीली गोलियां खिला दी हैं। उससे मारपीट कर उसे घर से बाहर खडियाल रोड पर फेंक गए हैं। वह अपनी पत्नी बलविंदर कौर के साथ गांव तरंजीखेड़ा पहुंचा। भाई जगतार सिंह खदानों में गिरा पड़ा था। कुछ समय में उसका रिश्तेदार हरबंस सिंह निवासी मौड़ा भी मौके पर पहुंच गया। सभी जगतार सिंह को कार में गांंव मौड़ा ले गए। पूरी रात उन्होंने जगतार सिंह को अपने पास रखा। अगले दिन सुबह जगतार सिंह की सेहत अधिक खराब होने के कारण वह उसे सुनाम के निजी अस्पताल में ले गए। यहां डॉक्टरों ने जहरीली गोलियां खाने की पुष्टि की। इलाज में जगतार सिंह की मौत हो गई। पुलिस ने किरणपाल कौर, गुरप्रीत सिंह, काला सिंह, रघु सिंह और गुरदास सिंह के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

खबरें और भी हैं...