कोरोना का कहर / रहमान खेड़ा में अहमदाबाद से लौटी युवती भी पॉजिटिव

Girl returned from Ahmedabad in Rahman Kheda is also positive
X
Girl returned from Ahmedabad in Rahman Kheda is also positive

  • दो दिन पूर्व चचेरा भाई भी निकला था पॉजिटिव, रिपोर्ट आने के बाद युवती को किया अजमेर रैफर, संपर्क हिस्ट्री खंगालने में जुटा चिकित्सा महकमा, क्षेत्र में कर्फ्यू जारी, स्क्रीनिंग, सैंपलिंग भी जारी

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

ब्यावर. समीपवर्ती ग्राम रहमान खेड़ा में मंगलवार सुबह अहमदाबाद से लौटी युवती की कोविड 19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अब ब्यावर उपखंड में कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़ कर 16 हो गई है। युवती अपने परिजनों के साथ मंगलवार सुबह पिकअप में सवार होकर अहमदाबाद से गांव पहुंची थी। पीड़ित युवती के भाई को भी दो दिन पूर्व कोरोना होने की पुष्टि हुई थी। युवती की रिपोर्ट आने पर उसे हायर सेंटर अजमेर रैफर कर दिया गया। उसकी संपर्क हिस्ट्री खंगाली जा रही है। क्षेत्र में कर्फ्यू जारी है।
जानकारी के अनुसार 20 वर्षीय युवती अपने परिवार और अन्य 19 जनों के साथ पिकअप में सवार होकर मंगलवार तड़के ब्यावर खास पहुंची थी। जिसकी जानकारी होने पर क्षेत्र के एएनएम अंजना मैसी ने सभी को राजकीय अमृतकौर अस्पताल भिजवा कर उनके स्वाब के सेंपल कलेक्ट करवाए थे। बुधवार को युवती के चाचा के पुत्र की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। बताया गया है कि युवती भी उसी पिकअप में सवार थी जिसमें उसका भाई भी सवार हो कर आया था। चिंता की बात यह है कि युवती में भी कोरोना वायरस के कोई लक्षण दिखाई नहीं दे रहे हैं।
125 लोगों के सैंपल लिए
कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा घर घर सर्वे किया जा रहा है। 149 टीमों द्वारा शुक्रवार को 1 हजार 117 घरों में सर्वे कर 6 हजार 447 लोगों की स्क्रीनिंग की गई। शुक्रवार को 125 लोगों के सेंपल लिए गए और जेएलएन लैब से 111 में से 110 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है।
स्क्रीनिंग जरूर करवाएं
प्रवासियाें से क्षेत्र में संक्रमण फैलने का खतरा मंडरा रहा है। इसीलिए चिकित्सा विभाग ने अपील की है कि वे आते ही अपनी स्क्रीनिंग करवाएं। प्रशासन की चिंता उन प्रवासियों काे लेकर है जाे पिछले कुछ दिनों से पैदल या अन्य साधनों से अपने अपने घर पहुंच रहे हैं। हालांकि चिकित्सा विभाग के निर्देश पर क्षेत्र की आशा सहयोगिनी और एएनएम समेत जनप्रतिनिधि ऐसे लोगों को समय पर अस्पताल पहुंचा कर उनकी स्क्रीनिंग करवा रहे हैं साथ ही होम क्वारेंटाइन करवाने में भी मदद कर रहे हैं। अगर कोई प्रवासी श्रमिक बिना स्क्रीनिंग या जांच के लिए गांव पहुंच जाए और वह होम क्वारेंटाइन का पालन नहीं करे तो वह कोरोना वाहक के रूप में कई लोगों के लिए घातक साबित हो सकता है।
एकेएच में 150 से ज्यादा प्रवासियों की स्क्रीनिंग
शुक्रवार को राजकीय अमृतकौर अस्पताल में गुजरात, महाराष्ट्र, अांध्रप्रदेश, केरल, दिल्ली से पहुंचे 150 से अधिक प्रवासी श्रमिकों की स्क्रीनिंग करवाई गई। चिकित्सा विभाग द्वारा इनमें से ऐसे श्रमिक जाे कोरोना प्रभावित क्षेत्रों से आएं हैं, उनके सेंपल भी लिए गए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना