शिक्षा मंत्रालय की पहल:प्रदेश के सभी विद्यालयों में अब विद्यार्थी ‘असम’ की संस्कृति से हाेंगे रूबरू

ब्यावर2 महीने पहलेलेखक: शशांक त्रिपाठी
  • कॉपी लिंक
कार्यक्रम के तहत असम की रीति-रिवाज, लोकगीत, लोकनृत्य को जानने का मिलेगा मौका - Dainik Bhaskar
कार्यक्रम के तहत असम की रीति-रिवाज, लोकगीत, लोकनृत्य को जानने का मिलेगा मौका

प्रदेश के विद्यालय के बच्चों को अब उत्तर पूर्वी भारत के ‘असम’ की संस्कृति से रूबरू कराया जाएगा। भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय के कार्यक्रम ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ के तहत प्रदेश के विद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थियों के साथ साल भर इसे लेकर कार्यक्रम आयोजित किए जाते रहेंगे। कार्यक्रम के तहत राजस्थान राज्य के साथ युग्म राज्य के रूप मे ‘असम’ राज्य को रखा गया है। इसी के तहत प्रदेश के बच्चों को युग्म राज्य ‘असम’ से परिचित कराया जाएगा।

शिक्षा मंत्रालय के अनुसार राष्ट्र की एकता एवं अखंडता को अक्षुण बनाए रखने, देश की भावी पीढ़ी को सुसंस्कारित करने एवं देश की संस्कृतियों, रीति-रिवाजों, परंपराओं, वेषभूषा आदि का आदान-प्रदान कर एक से दूसरे राज्य के साथ संपर्क स्थापित करने के उद्देश्य से यह कार्यक्रम होगा। इसके तहत विद्यालयों के माध्यम से भारत के राज्यों एवं केन्द्र शासित प्रदेशों में समन्वय स्थापित कर राष्ट्र की एकता व अखंडता की कड़ी मजबूत बनाएंगे।

योजना के तहत उक्त कार्यक्रम होंगे आयोजित

  • सभी विद्यालयों (राजकीय/निजी) में एक भारत श्रेष्ठ भारत की क्रियान्विति कराई जाएगी।
  • युग्म राज्य ‘असम’ के साथ स्कूलों को जोड़ना सुनिश्चित किया जाए।
  • प्रतिवर्ष एक भारत श्रेष्ठ भारत की 3-4 गतिविधियां स्कूल स्तर पर कराई जाएंगी।
  • विद्यार्थियों को शिक्षकों के माध्यम से युग्म राज्यों की सांस्कृतिक मेपिंग की जानकारी दी जाएगी। इसमें- वेशभूषा, खान-पान, रीति-रिवाज, लोकगीत, लोकनृत्य, लोक वाद्य आदि की जानकारी साझा हो।
  • प्रत्येक विद्यालय में ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ के लिए नोडल शिक्षक नियुक्त किया जाएगा।
  • भाषा संगम कैंपेन में भाग लेने के लिए विद्यार्थियों को प्रेरित करेंगे।
  • प्रत्येक विद्यालय में ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’क्लब का गठन होगा।
  • राजस्थान एवं असम के लोकनृत्य घूमर एवं बीहू आदि सास्कृतिक कार्यक्रमों के 2-5 मिनट के वीडियो }यू-ट्यूब पर एवं कार्यक्रम से जुड़ी की ईमेल आईडी पर प्रेषित कराए जाएंगे।
  • 2 दिसंबर को असम राज्य स्थापना दिवस व 30 मार्च को राजस्थान स्थापना दिवस पर वर्चुअल मोड पर उत्सव आयोजन किया जाए।
  • युग्म राज्य से संबंधित विचित्र वेशभूषा का आयोजन कराया जाएगा।