कोरोना का कहर / 40 दिन में आए थे 8 रोगी, अब सिर्फ 24 घंटे में मिले 9 कोरोना पॉजिटिव

बांदरसिंदरी. गांव की सीमाओं को सील करती पुलिस एवं गांव का मौका मुआयना करते एडिशनल एसपी किशन सिंह भाटी। बांदरसिंदरी. गांव की सीमाओं को सील करती पुलिस एवं गांव का मौका मुआयना करते एडिशनल एसपी किशन सिंह भाटी।
X
बांदरसिंदरी. गांव की सीमाओं को सील करती पुलिस एवं गांव का मौका मुआयना करते एडिशनल एसपी किशन सिंह भाटी।बांदरसिंदरी. गांव की सीमाओं को सील करती पुलिस एवं गांव का मौका मुआयना करते एडिशनल एसपी किशन सिंह भाटी।

  • बांदरसिंदरी गांव में 16 में से 8 जनों की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, पॉजिटिव आने वालों में मृतका की तीनों बेटियाें सहित परिवार के 8 सदस्य शामिल, करकेड़ी गांव की एक महिला भी आई पॉजिटिव

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 06:00 AM IST

किशनगढ़. बांदरसिंदरी गांव में शुक्रवार काे कोरोना ब्लास्ट हुआ। गुरूवार काे पॉजिटिव महिला की जयपुर में मौत के बाद गांव की नट बस्ती के 16 में से 8 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले है जबकि एक 48 वर्षीय महिला नजदीकी ग्राम करकेड़ी की है। जिनमें मृतका की तीनों बेटियाें समेत परिवार के आठ जने शामिल है। किशनगढ़ उपखंड में पिछले 40 दिन में आठ पाॅजिटिव थे लेकिन अगले 24 घंटे में ही पाॅजिटिव का आंकड़ा 17 जा पहुंचा है। एक साथ 8 कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद गांव में दहशत का माहौल हो गया।
प्रशासन ने नट बस्ती की सभी सीमाओं को सील कर दिया। पॉजिटिव आए सभी 9 रोगियों को यज्ञनारायण अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड से अजमेर के जेएलएन अस्पताल के कोरोना वार्ड में भर्ती कराया गया है। बांदरसिंदरी गांव में 80 टीमों को सर्वे के लिए लगाया गया है।  गुरुवार को मुंबई से आई 25 वर्षीय महिला की जयपुर के एसएमएस अस्पताल में मौत हो गई थी। महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद महिला की तीनों बेटियां व पति सहित करीब 16 जनों को राजकीय यज्ञनारायण अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल भेजे गए।
शुक्रवार की शाम 4 बजे आई रिपोर्ट में 9 जने कोरोना पॉजिटिव मिले। इसमें मृतका की पांच साल, सात साल और ग्यारह साल की बेटी भी शामिल है । जबकि मृतका के पति की रिपोर्ट आना बाकी है। खबर मिलते ही अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया। घटना की सूचना तुरंत उपखंड अधिकारी देवेंद्र यादव को दी गई। एसडीएम ने मय टीम तुरंत बांदरसिंदरी गांव का मौका मुआयना किया। पुलिस उपाधीक्षक सतीश यादव सहित आला अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर मोर्चा संभाल लिया।
कोरोना विस्फोट होने के बाद नट बस्ती व पूरे बांदरसिंदरी गांव को कवर करने के लिए चिकित्सा विभाग ने 80 टीमें बनाकर सर्वे में लगाया है। प्रत्येक टीम ने दो सदस्य शामिल है। टीमों ने घर-घर जाकर स्क्रीनिंग शुरू कर दी है। 
कर्फ्यू की होगी सख्ती से पालना
गुरुवार को महिला के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद ही नट बस्ती में कर्फ्यू लगा दिया गया था।  नट बस्ती की सभी सीमाओं को सील कर दिया गया है। आवश्यक सामग्री की आपूर्ति के लिए प्रशासन द्वारा घर-घर सामग्री भिजवाई जाएगी। 
अरांई में 16 अप्रैल काे पहला पाॅजिटिव
किशनगढ़ विधानसभा क्षेत्र में उज्जैन से अरांई में 16 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव का पहला मामला सामने आया था। उसके बाद दूसरा मामला गुदली गांव, तीसरा और चौथा देवपुरी और लक्ष्मीनगर में आया था। पांचवां मामला गुदली में आए भोपे के साथी आया। छठा और सातवां केस पुरानी मिल चौराहे पर दस दिन पूर्व मुंबई से लाैटे पिता-पुत्र आए। यानि 40 दिन में कुल आठ कोरोना रोगी सामने आए थे। जबकि सिर्फ 24 घंटे में एक साथ बांदरसिंदरी गांव के 8 एवं नजदीकी ग्राम करकेड़ी की 48 वर्षीय महिला सामने आई हैं। अब कोरोना पॉजिटिव की संख्या 17 हो गई है। 
करकेड़ी में मिला कोरोना पॉजिटिव का पहला मामला
ग्राम करकेड़ी में शुक्रवार को कोरोना पॉजिटिव का पहला मामला सामने आ गया। उपखण्ड अधिकारी भंवरलाल जनागल ने बताया कि ग्राम  करकेड़ी में मुम्बई से गुरुवार को कुछ लोग आए थे जिनमें से एक महिला को तेज बुखार था जिसकी प्राथमिक जांच के बाद उसे किशनगढ़ ले जाया गया। शुक्रवार को इसकी कोरोना वायरस जांच पॉजिटिव आने के बाद उसे अजमेर जवाहर लाल नेहरु चिकित्सालय के लिये रैफर कर दिया गया । उपखंड अधिकारी जनागल ने बताया कि मुम्बई से आए हुए शेष व्यक्तियों को क्वारंटाइन किया गया है । इनमें से कुछ को होम तथा कुछ को संस्थागत क्वारंटाइन किया गया है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मुम्बई से गुरुवार को आये लोग मुम्बई में ही रहते हैं लेकिन महाराष्ट्र में बढ़ रहे कोरोना केस के कारण सभी प्रवासी अपने अपने गांवों को लौट रहे हैं उधर, रूपनगढ़ के ग्राम रघुनाथपुरा में भी मुम्बई से गुरुवार को लोग आए इनमें से 43 को तो क्वारंटाइन किया गया और सात के सैम्पल जांच के लिये किशनगढ़ भेज दिए गए हैं । सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी अधिकारी डॉ . हरिराम चौधरी ने बताया कि इनकी अभी रिपोर्ट आना शेष है। रूपनगढ़ उपखण्ड क्षेत्र में गुरुवार देर रात मुम्बई से 65 और प्रवासी आए।
 तहसीलदार भंवरलाल कूकणा ने बताया कि रूपनगढ़ तहसील के 65 मजदूराें को फुलेरा से रूपनगढ़ लाया गया। रूपनगढ़ में डॉ . हरिराम चौधरी , डॉ . एम . पी . जैन और डॉ . केशव बंसल व सुखराम चौधरी ने इनकी स्कैनिंग की और सभी को क्वारंटाइन करने के निर्देशों के साथ भेज दिया। मजदूरों को ग्राम नवां , नोसल , पनेर , भदूण और अमरपुरा के लिये वाहनों से रवाना किया गया। इनकों घरों व संस्थागत रूप से क्वारंटाइन किया गया है ।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना