उदयपुर कला गांव में किसान हत्या मामले में खुलासा:खेत में शिकार करने से रोकने पर दो आरोपी ने किया था गोली मारकर मर्डर, एक आरोपी गिरफ्तार, एक नाबालिग फरार

किशनगढ़5 दिन पहले

किशनगढ सिटी थाना के उदयपुर कला गाव के कुम्हरिया बेरे के पास खेत की रखवाली कर रहे किसान की गोली मारकर हत्या मामले का सिटी थाना पुलिस ने 24 घंटे में पर्दाफाश करते हुए हत्या के आरोपी राहुल उर्फ बाबूलाल भील को गिरफ्तार किया है। वहीं आरोपी के नाबालिग साले की तालाश जारी है।

पुलिस की प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि आरोपी जंगल में शिकार करते हुए मृतक रंगलाल के खेत से होकर निकल रहे थे। इसी दौरान रंगलाल ने उन्हें रोक लिया। रंगलाल ने फोन कर अपने भाई को भी मौके पर बुलाकर दोनों को पकड़कर पुलिस के हवाले करने की बात करने लगे। यह बात जीजा और साले को नागंवार गुजरी नाबालिक साले ने मृतक रंगलाल और सुखलाल को कहा कि हम दोनों को छोड़ दो नहीं तो गोली मार देंगे।

मृतक के भाई ने जैसे ही कहा कि ऐसे कैसे गोली मार दोगे तो आरोपी नाबालिक ने मृतक के सीने में टोपीदार बंदूक से गोली दाग दी और मौके से फरार हो गए। मृतक का भाई रंगलाल को उपचार के लिए राजकीय अस्पताल लेकर पहुंचा जहा चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के भाई सुकलाल ने मामले की जानकारी किशनगढ़ सिटी थाना पुलिस को दी।

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे सीओ सिटी मनीष शर्मा थाना प्रभारी नरपत सिंह चारण ने मृतक के भाई से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि भीलो की बस्ती में रहने वाले राहुल उर्फ बाबूलाल व दिनेश ने घटना को अंजाम दिया। सीओ सिटी मनीष शर्मा के निर्देशन में टीमो का गठन कर डेरे में दबिश दी गई। जहां आरोपी राहुल उर्फ बाबूलाल भील मिल गया।

आरोपी को पकड़कर पुलिस घटनास्थल लेकर पहुंचे जहां घटनास्थल से 1 किलोमीटर की दूरी पर आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने टोपीदार बंदूक बरामद की। शहर थाना पुलिस ने आरोपी जीजा राहुल उर्फ बाबूलाल भील को गिरफ्तार किया है। वहीं मामले में फरार चल रहे नाबालिक साले की पुलिस सरगर्मी से तलाश में जुटी है।

खबरें और भी हैं...