10वीं के छात्र ने की खुदकुशी:इकलौता बेटा था 16 साल का हर्ष, रात 12.30 बजे तक परिवार के साथ था, सुबह सीढ़ियों की रेलिंग पर लटका मिला शव

अजमेर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने पोस्टमार्टम करके शव परिजनों को सौंप दिया। सुसाइड की वजह अब तक साफ नहीं है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने पोस्टमार्टम करके शव परिजनों को सौंप दिया। सुसाइड की वजह अब तक साफ नहीं है।

अजमेर में 10वीं के एक छात्र ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। 16 साल के हर्ष का शव रविवार सुबह घर में सीढ़ियों की रेलिंग पर लटका मिला। परिजन ने शव को रेलिंग से उतारा और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजन के सुपुर्द कर दिया। मौके से किसी तरह का कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। छात्र ने सुसाइड क्यों किया? इस बारे में पता नहीं चल पाया है। फिलहाल, जांच के लिए पुलिस ने छात्र का मोबाइल जब्त कर लिया है।

मां के स्टॉल से बनाया फंदा
पुलिस ने बताया कि धोलाभाटा के पास कपिल वस्तु कॉलोनी में रहने वाले रमेशचन्द्र भारती के बेटे हर्ष ने खुदकुशी की है। उसने मम्मी की स्टॉल का फंदा बनाकर सीढ़ियों की रेलिंग पर लटक गया। पिता रमेशचन्द्र रेलवे में लोको पायलट हैं। उनके एक बेटी याशिका और है। हर्ष ऑल सेन्ट स्कूल में 10 वीं कक्षा में पढ़ता था। जबकि याशिका छठी क्लास में पढ़ रही है।

पुलिस को परिजनों से बताया कि रात 12.30 बजे तक हर्ष घर वालों के साथ था। वह पढ़ाई कर रहा था। सुबह परिजन उठे तो उसका शव रेलिंग में लटका देखकर कोहराम मच गया। आनन-फानन में परिजनों ने शव को नीचे उतारा और डॉक्टर को बुलाया। डॉक्टरों ने छात्र को मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पोस्टमार्टम कराके शव परिजनों को सौंप दिया।

जांच के बाद होगा कारणों का खुलासा
परिजनों का कहना है कि हर्ष को किसी तरह की कोई समस्या नहीं थी। उसने ऐसा क्यों किया। यह समझ में नहीं आ रहा है। वहीं, पुलिस ने कहा कि सुसाइड का अब तक कोई कारण समझ नहीं आ रहा है। पढ़ाई के दबाव की बात भी परिजन मना कर रहे हैं। पुलिस उसके दोस्तों से भी पूछताछ करेगी। संभव है कि उसमें सुसाइड की वजह सामने आए। पुलिस ने मृतक का मोबाइल जब्त कर लिया है।

खबरें और भी हैं...