पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • 200 Cases Of Online Fraud, Jamtara Gang Operating In 5 States Including State, Made Online Payment Of Rs 10, Crossed 42 Thousand From Account

साइबर क्राइम:ऑनलाइन ठगी की हर माह 200 वारदातें, राज्य समेत 5 स्टेट में सक्रिय जामताड़ा गैंग, 10 रु का ऑनलाइन पेमेंट कराया, खाते से 42 हजार पार

अजमेर24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बेराेजगार युवती काे जाॅब देने का झांसा देकर खाते से पार किए 42 हजार रुपए

जिले में हर महीने 200 से ज्यादा ऑनलाइन ठगी की वारदातें हाे रही हैं। काेराेनाकाल के तहत गत मार्च से लाॅकडाउन और उसके बाद अनलाॅक के दाैरान शातिर ठग बेराेजगार युवक-युवतियाें काे वर्क एट हाेम जाॅब देने का झांसा देकर शिकार बना रहे हैं। पुलिस रिकार्ड के अनुसार राेजाना पांच वारदातें ऑनलाइन ठगी की दर्ज हाे रही हैं।

बुधवार काे अलवर गेट थाना पुलिस ने भी एक युवती की शिकायत पर मुकदमा दर्ज किया है। शातिर ठगाें ने जाॅब का लालच देकर उसके बैंक खाते की डिटेल हासिल की और खाते से 42 हजार रुपए पार कर दिए। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनाें झारखंड और हरियाणा में पकड़े गए ऑनलाइन ठगाें ने यह खुलासा किया था कि झारखंड का कुख्यात जामताड़ा गैंग ऑनलाइन ठगी में लिप्त है। यह गैंग राजस्थान सहित पंजाब, हरियाणा, बिहार, पश्चिम बंगाल में सक्रिय है।
10 रु का ऑनलाइन पेमेंट कराया, खाते से 42 हजार पार
अलवर गेट थाना पुलिस के अनुसार बिहारीगंज निवासी युवती ने शिकायत दी है कि गत दिनों उसके फोन पर किसी व्यक्ति का काॅल आया था। उसने बताया था कि वह डब्ल्यू डब्ल्यू -7 जॉब कंपनी से बोल रहे हैं। यदि आपको जॉब करना है तो हमारी कंपनी के वेबसाइट पर आवेदन भरें। आवेदन भरने का शुल्क मात्र 10 रुपए है। यह राशि आपको कंपनी के नाम ऑनलाइन डेबिट करनी हाेगी।

युवती ने बताया कि उसने जैसे ही कंपनी की वेबसाइट पर जॉब के लिए अप्लाई किया और 10 रुपए कंपनी के खाते में ट्रांसफर कर दिए। इसके बाद उसके खाते से 42 हजार रुपए निकल गए। जिस नंबर से काॅल आया, वह लगातार स्विच ऑफ बना हुआ है। जांच अधिकारी सब इंस्पेक्टर दातार सिंह ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।
ऑनलाइन ठगी में कुख्यात है जामताड़ा गैंग
साइबर अपराधियों का गढ़ माने जाने वाले झारखंड के जामताड़ा के ठगों ने अब ठगी के तरीके बदल लिए है। पिछले दिनाें फरीदाबाद और झारखंड में इस गिराेह के शातिराें की गिरफ्तारियों के बाद चाैंकाने वाला तथ्य सामने आया है कि अब जामताड़ा के ठग ढेर सारे मोबाइल नंबर्स हासिल कर उसे अलग-अलग बैंक के अकाउंट में इस्तेमाल करते हैं। अगर उनमें से किसी नंबर पर ओटीपी आ गया तो फिर उन नंबर्स पर फोन किया जाता है, ताकि कस्टमर से बैंक में दी गई ई-मेल आईडी के बारे में जाना जा सके। ये लोग सिम कार्ड को अपग्रेड करने या केवाईसी को अपडेट करने वाले मोबाइल ऑपरेटर के तौर पर बात करते हैं।

शिकार को विश्वास में लेकर ये उसकी मेल-आईडी हासिल कर लेते हैं। फिर ये ऑफिशियल कस्टमर केयर नंबर पर भेजे जाने वाले टेक्स्ट को शिकार को ईमेल करते हैं। पीड़ित व्यक्ति के नंबर के साथ उसकी ईमेल आईडी दर्ज करने की इस प्रक्रिया के जरिए सिम को ई-सिम में बदल लेते हैं। प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद पीड़ित का फोन नंबर, बैंक खाते, इससे जुड़ी हुई अन्य जानकारियां इन शातिर ठगाें के पास आ जाती हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें