60 लाख रुपए की कीमत के 233 मोबाइल बरामद:भीड़-भाड़ का फायदा उठाकर करते मोबाइल चोरी, उर्स के दौरान गिरोह के 11 लोग गिरफ्तार

अजमेर10 महीने पहले
गिरफ्तार आरोपी।

अजमेर जिला पुलिस ने ख्वाजा गरीब नवाज के 810वें उर्स में भीड़-भाड़ का फायदा उठाकर मोबाइल चोरी करने वाले 11 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों से 60 लाख रुपए की कीमत के 233 विभिन्न कंपनियों के मोबाइल बरामद किए है। पुलिस गिरफ्तार किए गए आरोपियों से विभिन्न वारदातों को लेकर पूछताछ कर रही है।

अजमेर एसपी विकास शर्मा ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि ख्वाजा साहब के 810वें उर्स के दौरान दरगाह में काफी संख्या में देश-विदेश से जायरीन आते हैं। जिनसे दरगाह में अधिक भीड़ होने के कारण मोबाइल, चैन व अन्य चोरी करने के लिए संदिग्ध गैंग उर्स में सक्रिय होती है। इसे लेकर एडिशनल एसपी विकास सांगवान के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया और गैंग की गिरफ्तारी के लिए निर्देश दिए गए।

शर्मा ने बताया कि दरगाह क्षेत्र से मोबाइल चोरी होने के कई मामले दरगाह थाने में परिवादियों द्वारा दर्ज करवाए गए। इस दौरान जिला पुलिस व सादा वस्त्र टीम और दरगाह में लगे सीसीटीवी और कंट्रोल रूम से संदिग्ध जैब तराशो को चयनित किया गया। इसके बाद टीम ने कार्रवाई करते हुए 11 आरोपी पश्चिम बंगाल जिला हावड़ा निवासी फिरोज ( 42 ) पुत्र मोहम्मद अकबर,शेख राजू ( 45 ) पुत्र शेख इंसान, मोहम्मद असगर ( 45 ) पुत्र मोहम्मद अब्दुल, नई दिल्ली निवासी अकील अली उर्फ बिट्टू ( 26 ) पुत्र राहत अली, शाहाबाद उर्फ शब्बू ( 19 ) पुत्र अब्दुल खालिद, मोहम्मद अमन ( 19 ) पुत्र मुस्ताक अहमद, भरतपुर निवासी सुनीता( 30 ) पत्नी राजू, अजमेर निवासी अली ( 22 )पुत्र अयूब अंसारी, मोहम्मद फैसल ( 21) पुत्र मोहम्मद खलील, महाराष्ट्र जिला नासिक निवासी हारून अली ( 26 ) पुत्र शौकत अली को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए 11 आरोपियों में डुमज्जु हावड़ा गैंग और उस्मानपुर गैंग के सदस्य भी शामिल है।

पुलिस टीम व बरामद मोबाइल।
पुलिस टीम व बरामद मोबाइल।

एसपी शर्मा ने बताया कि गैंग के सदस्यों से 40 लाख रुपए कीमत के 133 बरामद किए गए हैं। वहीं साथ ही लगातार गुम हुए मोबाइल की संख्या को देखते हुए उन्हें भी ट्रेस किया गया और करीब 100 मोबाइल और बरामद हुए। गिरफ्तार किए गए 11 आरोपियों से पुलिस अन्य वारदातों को लेकर पूछताछ कर रही है।

भीड़-भाड़ का फायदा उठाकर करते वारदात

अजमेर एसपी विकास शर्मा ने बताया कि आरोपी द्वारा पूर्व में नियोजित तरीके से गैंग के रूप में आकर दरगाह में भीड़-भाड़ वाले स्थान को चयनित कर जायरीनों का ध्यान भंग करके उनके जेब से मोबाइल और पर्स निकाल कर एक दूसरे को देकर एकत्रित कर चोरी करते थे।

60 लाख रुपए कीमत के 233 मोबाइल बरामद

अजमेर पुलिस ने उर्स के दौरान एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। उर्स में सक्रिय हुई गैंग के 11 लोगों को पुलिस की ओर से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने इस दौरान बड़ी संख्या में 233 मोबाइल विभिन्न ब्रांडेड कंपनियों के बरामद किए हैं। इनकी कीमत करीब 60 लाख रुपए बताई गई है। इनमें आईफोन सहित विभिन्न ब्रांडेड कंपनियों के मोबाइल है। एसपी के अनुसार यह सभी मोबाइल परिवादी तक पहुंचाए जाएंगे।