पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • A 5.5 foot Cobra Snake Plunged Into A 60 foot Deep Well, Tied Down The Ladder With A Rope, And The Downed Surfer; Fewer Problems Due To Less Water And More Thorns, Saved And Left In The Forest

60 फ़ीट गहरे कुंए में गिरा 5.5 फीट का कोबरा:सांप को रेस्क्यू करने के लिए रस्सी से सीढ़ी बांध नीचे उतर गया, उथले पानी के ऊपर कांटे थे, फिर भी निकाल लिया सुरक्षित

अजमेर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कुएं में कोबरा, जिसे रेस्क्यू किया गया। - Dainik Bhaskar
कुएं में कोबरा, जिसे रेस्क्यू किया गया।

बदलते मौसम के बीच सांपों की संख्या आबादी क्षेत्र में बढ़ने लगी है। यह भोजन की तलाश में अपने निर्धारित स्थान से बाहर निकल रहे हैं। शुक्रवार सुबह हाथीखेड़ा के कुएं में कोबरा गिर गया। सूचना मिलने पर पहुंचे एक व्यक्ति ने सीढ़ी को रस्सी से बांधा और नीचे उतर कर सांप को रेस्क्यू किया। बाद में उसे जंगल में छोड़ दिया। कुएं में पानी कम और कांटे ज्यादा होने से थोड़ी परेशानी हुई।

हाथीखेड़ा गांव स्थित नानकीया तालाब के पास रहने वाले शंकर सिंह रावत के खेत में बने कुएं की मुंडेर नहीं होने से उसमें एक कोबरा सांप गिर गया। जिसे बाहर निकालने के लिए शंकर सिंह ने सर्परक्षक विजय यादव को कॉल किया। यादव अपने साथी प्रीतम सहित पहुंचा और देखा कि 60 फ़ीट गहरे कुंए में एक स्पेक्टिकल कोबरा सांप गिरा हुआ था। जिसे रेस्क्यू करने के लिए उसने सीढ़ी को रस्सी से बांधकर उसके सहारे कुएं में उतरा। कुएं में पानी 1 फ़ीट ही था, लेकिन अंदर कांटे अधिक थे। थोड़ी मुश्किल हुई, लेकिन फिर भी वह विषैले सांप को बाहर निकालने में कामयाब हो गया। बाद में उसे जंगल में छोड़ दिया।

मौसम में बदलाव का असर

सांप को रेस्क्यू करने वाले यादव ने बताया कि वर्तमान में बदलते मौसम के कारण सांप ज्यादा बाहर आ रहे हैं। यह भोजन की तलाश में आबादी के पास पहुंच जाते हैं। सांप चाहे विषैला हो या विषहीन, इन्हें मारने के बजाय इनका संरक्षण करना आवश्यक है। पर्यावरण के संतुलन को बनाए रखने में सांपों की अहम भूमिका होती है। इसी के साथ सांप के विष से ही विष प्रतिरोधक दवा एन्टी वेनम सीरम बनता है, जो सर्पदंश होने पर रोगी के जीवन को बचाने में सहायक होता है। ऐसे में किसी भी प्रजाति के सांपों को न मारें।

खबरें और भी हैं...