• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • A Six page Suicide Note Was Found; Accused Of Harassing Husband And In laws, Police Got The Body Kept In The Mortuary

पापा मेरी वजह से अब आपको झुकना नहीं पड़ेगा:6 पेज का सुसाइड नोट छोड़कर महिला ने फंदा लगाया, लिखा- मेरी बेटी का ख्याल रखना

अजमेर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अजमेर में पति के एक्सट्रा मैरिटल अफेयर और ससुराल वालों से परेशान महिला ने खुदकुशी कर ली। मृतक महिला अनुराधा के पास 6 पेज का सुसाइड नोट मिला। सुसाइड नोट में अनुराधा ने लिखा- 'पापा अब आपको मेरी वजह से किसी के सामने नहीं झुकना होगा। इसलिए इस दुनिया को छोड़कर जा रही हूं। अपनी दो साल की बेटी को मारने की मैं हिम्मत नहीं जुटा पाई। आप इसका ख्याल रखना।' अनुराधा की तीन साल पहले शादी हुई थी। उसका पति जर्मनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। अनुराधा ने पति पर एक्सट्रा मैरिटल अफेयर रखने सहित ससुराल पक्ष पर परेशान करने का आरोप लगाया है।

दरअसल, वैशालीनगर के शिव सागर कॉलोनी में रहने वाले मधुसूदन सोमानी की बेटी अनुराधा (31) ने शनिवार को फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। घर पर माता-पिता व भाई नहीं था, केवल दो साल की बेटी अनन्या थी। परिवार घर पहुंचा तो वह फंदे पर लटकी मिली। पुलिस को सूचना दी। शव को जेएलएन अस्पताल की मॉर्चुरी में रखवाया गया। भाई सर्वेश्वर सोमानी ने क्रिश्चियन गंज थाने में शिकायत दी। सीओ (नॉर्थ) छवि शर्मा ने घटनास्थल का मुआयना कर सुसाइड नोट जब्त कर लिया है।

समाज के लोगों से मिलने गए थे मां-बाप
शनिवार रात को अनुराधा अपनी दो साल की बच्ची अनन्या के साथ घर पर अकेली थी। उसके माता-पिता ससुराल में चल रही परेशानी को सुलझाने के लिए समाज के लोगों से मिलने गए थे। परिजन घर पहुंचे तो अनुराधा फंदे पर लटकी हुई थी।

पति अनिरुद्ध के साथ अनुराधा। दोनों की 3 साल पहले शादी हुई थी। अनिरुद्ध जर्मनी में जॉब करता है।
पति अनिरुद्ध के साथ अनुराधा। दोनों की 3 साल पहले शादी हुई थी। अनिरुद्ध जर्मनी में जॉब करता है।

ससुराल वालों ने अबॉर्शन का दबाव बनाया
अनुराधा के परिवारवालों के मुताबिक शादी के बाद पति अनिरुद्ध उसे ससुराल छोड़कर जर्मनी चला गया। दोनों सिर्फ 6 महीने साथ रहे। ससुर गोविन्द लाल मालपानी, सास सरोज और देवर आदित्य उसको शारीरिक व मानसिक यातनाएं देते रहे। उसने पति को जर्मनी बुलाने की बात कही तो वीजा का बहाना बनाकर टाल दिया। वह जैसे-तैसे जर्मनी पहुंची तो प्रेग्नेंट हो गई।

जांच कराने पर पता चला कि उसके पेटे में जुड़वा बच्चे थे। एक बच्चे में प्रॉब्लम आई तो जबर्दस्ती अबॉर्शन करवा दिया। जांच में पता चला कि दूसरा बेबी बेटी है तो ससुराल वाले उसका भी अबॉर्शन कराने का दबाव बनाने लगे। पति ने उसे जर्मनी से ससुराल किशनगढ़ भेज दिया। जहां प्रेग्नेंसी के दौरान सास-ससुर व देवर ने प्रताड़ित किया।

बेटी अनन्या के साथ अनुराधा की फाइल फोटो। सुसाइड नोट में महिला ने बेटी का ख्याल रखने की बात लिखी थी।
बेटी अनन्या के साथ अनुराधा की फाइल फोटो। सुसाइड नोट में महिला ने बेटी का ख्याल रखने की बात लिखी थी।

पति ने खाना देना बंद कर दिया
महिला बेटी अनन्या के जन्म के बाद दूसरी बार जर्मनी पहुंची तो उसे वहां पति के किसी अन्य महिला से अवैध संबंध होने का पता चला। उसने विरोध किया तो पति आए दिन परेशान करने लगा। उसे खाना तक नहीं देता था। परेशान होकर वह बेटी को लेकर लौट आई। तब से वह पीहर में माता-पिता के पास रह रही थी।

प्रताड़ित करने वालों को सजा दिलाएं
सुसाइड नोट में अनुराधा ने पिता और समाज से अपील की कि वह उसे व उसकी दो साल की मासूम बेटी को प्रताड़ित करने वालों को सजा दिलाकर उसे न्याय दिलाएं।

खबरें और भी हैं...