• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • Advertisement Should Be Banned, Action Should Be Taken Against The Company; Expressed Anger, Submitted A Memorandum To The Home Ministry

विज्ञापन से भड़का रहे धार्मिक भावना:घी कंपनी पर कार्रवाई की मांग, गृहमं त्रालय के नाम ज्ञापन सौंपा

अजमेर7 महीने पहले
विरोध प्रकट करते लोग।

अजमेर में एक कंपनी पर विज्ञापन में धार्मिक भावना भड़काने का आरोप लगाया। इसके विरोध में चित्रगुप्त समाज एवं मंदिर समिति और समाज के लोगों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर विरोध जताया। साथ ही कार्रवाई के लिए गृहमंत्रालय के नाम ज्ञापन जिला कलेक्टर को सौंपा।

ज्ञापन में बताया कि गुरुग्राम की एक घी निर्माता कंपनी नमस्ते इंडिया द्वारा अपने उत्पाद के विज्ञापन से हिन्दु धर्मावलम्बियो की भावनाओं को ठेस पहुंच रही है। प्रसारित हो रहे इस विज्ञापन में हिंदू सनातन धर्म के प्रमुख भगवान धर्मराज श्री चित्रगुप्त व यमराज के प्रति अशोभनीय अपशब्दों का उपयोग किया गया है।

विज्ञापन में भगवान यमराम अभिनय और भाषा को इस प्रकार मंचित करवाया गया है, जिससे भगवान यमराज लोभी, अनैतिक तरीकों से टारगेट पूरा करने वाले बताए है। भगवान चित्रगुप्त को गलतियां करने वाला जोकर व स्वर्ग को बाजार बताया गया है। हिन्दु धर्म में भगवान चित्रगुप्त व यमराज को जिवों के जन्म-मरण का लेखा-जोखा रखने वाले देव बताए गए है तथा स्वर्ग एक पवित्र स्थान है।

इस विज्ञापन में इन हिन्दु देवताओं से अनैतिक तरीके से अभिनय करवाकर हिन्दु धर्मावलंबियों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का प्रयास किया गया है। इस विज्ञापन पर अविलम्ब रोक लगाकर उचित कार्रवाई की जाए।