पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विराेध के स्वर तेज:एलिवेटेड राेड की अप्राेच राेड काे मार्टिंडल ब्रिज पर नहीं उतारा ताे करेंगे आंदाेलन

अजमेर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुलिस अधीक्षक के दखल के बाद व्यापरियों के दर्ज हुए बयान

एलिवेटेड राेड निर्माण में बाटा तिराहा पर बन रही अप्राेच राेड के विराेध के स्वर तेज हाे गए हैं। जिला कलेक्टर और एसपी काे इस बारे में की गई शिकायताें पर मंगलवार काे ट्रैफिक पुलिस ने व्यापारियाें के बयान दर्ज किए हैं। इधर, अजमेर शहर व्यापार महासंघ के अध्यक्ष किशन गुप्ता के नेतृत्व में केसरगंज स्थित कार्यालय पर व्यापारियाें ने बैठक आयाेजित कर आगे की रणनीति तय की है। महासंघ के प्रवक्ता एडवोकेट विकास अग्रवाल ने बताया कि एलिवेटेड रोड का निर्माण में केसरगंज बाटा तिराहे पर बनाई जा रही अप्राेच राेड काे लेकर स्थानीय व्यापारियों में भारी रोष व्याप्त है। व्यापारियाें का कहना है कि इस अप्राेच राेड काे मार्टिंडल ब्रिज तक बढ़ाया जाए। इस बारे में जिला कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक व स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के अधीक्षण अभियंता अरुण माथुर काे ज्ञापन साैंपे गए थे।

पुलिस अधीक्षक के दखल के बाद ट्रैफिक पुलिस द्वारा व्यापारियाें के बयान दर्ज किए गए हैं। महासंघ के पदाधिकारियों, व्यापारियाें और आमजन ने एलिवेटेड रोड बनने की वजह से बाटा तिराहे के अस्तित्व समाप्त होने और इससे आने वाली अनगिनत समस्याओं की लेकर बयानाें अपना पक्ष रखा है।

समस्याओं का समाधान नहीं ताे आंदाेलन
अग्रवाल ने कहा कि यदि व्यापारियाें की समस्याओं का समाधान नहीं किया गया ताे आंदाेलन किया जाएगा। इसकी तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। बैठक में रमेशचंद जैन, जय गोयल, अरविंद अग्रवाल, कैलाश अग्रवाल, अशोक गांधी, बालेश गोहिल, बिमल नागरानी, नितेश गर्ग और संपत कोठारी माैजूद थे। महासंघ के प्रवक्ता कमल गंगवाल ने बताया कि यदि बाटा तिराहे को बंद किया जाएगा तो अजमेर शहर के सभी व्यापारी एकजुट होकर आंदोलन करेंगे और किसी भी सूरत में ऐतिहासिक बाटा तिराहे को बंद नहीं होने देंगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें