निशुल्क आयोजित:6 माह से 16 वर्ष तक के बच्चों के लिए आयुर्वेद का मंत्राैषधि स्वर्ण प्राशन संस्कार शिविर आज

अजमेर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।
  • चंदन निवास के राजकीय आयुर्वेद चिकित्सालय में निशुल्क आयोजित हाेगा शिविर

बच्चाें के शारीरिक और बाैद्धिक विकास के साथ राेग प्रतिराेधक क्षमता बढ़ाने के लिए आयुर्वेद का मंत्राैषधि स्वर्ण प्राशन संस्कार शिविर रविवार काे आयोजित किया जाएगा। किशनगढ़ काेठी के सामने वाली सड़क पर स्थित चंदन निवास के राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय में आयोजित इस शिविर में 6 माह से 16 साल तक के बच्चों का स्वर्ण प्राशन किया जाएगा। शिविर का समय सुबह 9 से दाेपहर 12 बजे तक रहेगा। यह एक तरह से बच्चों के लिए आयुर्वेदिक इम्यूनिटी बूस्टर शिविर है।

वरिष्ठ आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारी वैद्य घनश्याम जाेशी ने बताया कि काेराेना महामारी की तीसरी लहर के दाैरान बच्चों के बचाव के लिए निशुल्क स्वर्ण प्राशन प्रति माह पुष्य नक्षत्र में कराया जाएगा। स्वर्ण प्राशन से बच्चों की बाैद्धिक क्षमता, ताकत, एकाग्रता, पाचन शक्ति, सर्वांगीण विकास, सीखने की क्षमता, राेग प्रतिराेधक क्षमता और महामारी से लड़ने की क्षमता बढ़ती है। जाेशी ने बताया कि भारतीय संस्कृति के मुताबिक साेलह संस्काराें में पहला संस्कार स्वर्ण प्राशन संस्कार हाेता है। इसमें स्वर्ण भस्म काे देशी घी और शहद के साथ घाेटकर ड्राॅप्स तैयार की जाती है।

पुष्य नक्षत्र में हाेता है स्वर्णप्राशन: रविवार 8 अगस्त, 4 सितंबर शनिवार, 29 अक्टूबर शनिवार, 25 नवंबर मंगलवार, 22 दिसंबर बुधवार, 18 जनवरी 2022 मंगलवार, 15 फरवरी मंगलवार, 14 मार्च साेमवार, 10 अप्रैल रविवार, 7 मई शनिवार और 3 जून शुक्रवार काे पुष्य नक्षत्र में स्वर्ण प्राशन किया जाएगा। शिविर का शुभारंभ आज हाेने जा रहा है। शिविर के दाैरान बच्चों का स्वर्ण प्राशन कार्ड बनेगा, जिससे वर्षभर तक वे स्वर्ण प्राशन करवा सकेंगे। यह शिविर पूरी तरह से निशुल्क है।

खबरें और भी हैं...