• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • Constable Had Obscene Chatting With College Student; Nude Photo Also Shared, Pressure Was Being Made To Meet In The Room At Night

RPS के बाद कॉन्स्टेबल की आपत्तिजनक चैटिंग:कॉलेज छात्रों से की अश्लील चैटिंग, फोटो भी शेयर की; रात को कमरे पर मिलने का बना रहा था दबाव

अजमेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान पुलिस सेवा के ब्यावर DSP हीरालाल सैनी के अश्लील वीडियो के बाद अब अजमेर जिले के पींसांगन थाने में कार्यरत तत्कालीन कॉन्स्टेबल की अश्लील मोबाइल चैटिंग सामने आई है। साथ ही कॉन्स्टेबल ने आपत्तिजनक फोटो-वीडियो भी शेयर किए।

मामला 9 महीने पुराना है। जब कुछ छात्रों ने थाने में पहुंचकर कॉन्स्टेबल के खिलाफ टहलने के दौरान शारीरिक और मानसिक रूप से परेशान करने का आरोप लगाया था, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। अब सोमवार को पीसांगन पंचायत समिति सदस्य प्रदीप कुमावत अजमेर ग्रामीण डीएसपी सुमित मेहरड़ा को शिकायत देकर मामले में कार्रवाई की मांग की है। साथ ही छात्रों से अश्लील हरकत करने के भी आरोप लगाए हैं। अजमेर SP जगदीशचन्द्र शर्मा ने आरोपी कॉन्स्टेबल विक्रमसिंह को निलंबित कर दिया है। आरोपी के खिलाफ विभागीय जांच भी शुरू की जा रही है। निलंबन के दौरान मुख्यालय पुलिस लाइन अजमेर रहेगा।

पुलिस ने आरोपी कॉन्स्टेबल विक्रमसिंह के खिलाफ पॉक्सो में FIR दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जांच नसीराबाद सदर थाना प्रभारी को सौंपी गई है। आरोपी कॉन्स्टेबल फिलहाल श्री नगर थाने में पोस्टेड है। अजमेर ग्रामीण CO सुमित मेहरड़ा ने बताया कि पूर्व में दी गई शिकायत इतनी गंभीर नहीं थी, इसलिए मामला दर्ज नहीं किया गया। अब अश्लीलता जैसी गंभीर शिकायत की है। इस पर पुलिस ने तुरंत FIR दर्ज कर ली है।

अजमेर SP जगदीशचन्द्र शर्मा ने आरोपी कॉन्स्टेबल विक्रमसिंह को निलंबित कर दिया है।
अजमेर SP जगदीशचन्द्र शर्मा ने आरोपी कॉन्स्टेबल विक्रमसिंह को निलंबित कर दिया है।

प्रदीप कुमावत की ओर से दी गई शिकायत में बताया गया है कि छात्रों ने कॉन्स्टेबल पर अश्लील हरकतें करने का आरोप लगाया है। कुमावत ने यह भी कहा कि पूर्व में इसकी शिकायत पीसांगन थाने में की गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। अब इस मामले में कार्रवाई कर आरोपी को दंडित किया जाए। कुमावत की ओर से आरोपी कॉन्स्टेबल की छात्र के साथ हुई चैटिंग के स्क्रीन शॉट भी शेयर किए गए। इसमें छात्र को अपने कमरे में बुलाने के लिए दबाव डालने, आपत्तिजनक फोटो शेयर करने जैसी कई बातें सामने आई हैं। ग्रामीणों ने इसकी एक फाइल बनाकर पुलिस को सौंप दी है।

चैटिंग कर छात्र को मिलने के लिए दबाव डाल रहा था कॉन्स्टेबल
चैटिंग कर छात्र को मिलने के लिए दबाव डाल रहा था कॉन्स्टेबल

कस्बे में आया था संपर्क में, फिर लिए नंबर
भास्कर ने जब एक पीड़ित छात्र से बात की तो उसने बताया कि कस्बे में घूमने के दौरान ही आरोपी कॉन्स्टेबल संपर्क में आया था। उसने खुद को पुलिसकर्मी बताकर मोबाइल नंबर लिए। बाद में दिन के समय बातें करने लगा। फिर रात को भी मैसेज करने लगा। जब इसकी गलत मंशा का पता चला तो नंबर ब्लॉक कर दिए। इसके बाद पुलिस की गाड़ी लेकर पीछे आता और धमकाता था। एक साथी जो बाहर रहता था, उसने चैटिंग सेव कर ली। पीड़ित छात्र ने बताया कि आठ नौ माह से यह परेशान कर रहा था। शुरू में फ्रेंड की तरह रहता था। ऐसे करीब दस से पन्द्रह छात्र हैं, जो कॉलेज की पढ़ाई कर रहे हैं। सभी को दबाव बनाकर डराता और धमकाता था।

पूर्व में भी दी थी शिकायत
गत 22 दिसंबर 2020 काे पींसांगन थाने इलाके के कॉलेज छात्रों ने लिखित शिकायत देकर बताया था कि जब वे टहलने जाते हैं तो कॉन्स्टेबल उन्हें शारीरिक, मानसिक तौर पर परेशान करता है। झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर डराता-धमकाता है, लेकिन शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।

खबरें और भी हैं...