पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सीवरेज लाइन:प्रेशर मशीन से सीमेंट लिक्विड भर कर दुरुस्त कर रहे दीवार में क्रेक व टूटफूट

अजमेर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत आनासागर एस्केप चैनल की मरम्मत औैर सुदृढ़ीकरण कार्य जारी है। चैनल की दीवाराें में जहां टूटफूट या क्रेक है, वहां प्रेशर मशीन से सीमेंट लिक्विड भरकर दीवार काे बेजोड़ किया जा रहा है। याेजना के तहत 16.92 करोड़ की लागत से करीब 5 किलोमीटर लंबाई में 8 कलवर्ट बनाई जा रही हैं।

वहीं ब्रह्मपुरी में 277 मीटर में एक बॉक्स ड्रेन डाले जाने का कार्य भी जल्द ही शुरू हाेने जा रहा है, इससे पहले यहां सीवरेज लाइन डाली जानी जरूरी है। कचहरी रोड स्थित एस्केप चैनल पर पीसीसी सोलिंग औैर बेड का कार्य भी जारी है।

महादेव के ढाबे के आगे आरसीसी का नया बैड : आनासागर स्कैप चैनल पर स्लज क्लीयरेंस का कार्य आरंभ हो गया है। एस्केप चैनल की दोनों और की दीवारों की मरम्मत में गुनाइटिंग का प्रावधान लिया गया है। महादेव ढाबे के आगे नया आरसीसी का नया बेड बनाया जाएगा, जो कि बहुत ही मजबूत होगा। तोपदड़ा फाटक : एस्केप चैनल तोपदड़ा रेलवे फाटक के पास बेड का कार्य जारी है। चैनल की दोनों ओर की दीवार का निर्माण किया गया है।

एस्केप चैनल में ड्राय वेदर फ्लो के लिए केंद्र में छोटी ड्रेन का निर्माण किया जाएगा, जिसमें बरसात के अलावा अन्य मौसम में एस्केप चैनल में पानी की आवक कम होती है। पानी की निकासी के साथ उसकी नियमित सफाई सुगमता से हो सकेगी। यह है समस्या : एस्केप चैनल की सफाई के लिए वर्तमान में जगह-जगह से दीवारों को तोड़ा जाता है औैर वहां से पोकलेन मशीन नाले में उतारी जाती है। हर वर्ष दीवार को वापस बनाने में करीब एक करोड़ रुपए खर्च होते हैं।

ऐसे हाेगा समाधान : 5 किलोमीटर लंबाई में 10 स्थानों पर रैंप का निर्माण किया जा रहा है, इस रैंप के माध्यम से हाइड्रोलिक क्रॉलर मशीन जो स्मार्ट सिटी द्वारा नगर निगम को उपलब्ध कराई गई है वह आसानी से उतर सकेगी औैर नाले की सफाई सुगमता से हो सकेगी। दीवारों को बार-बार नहीं तोड़ना पड़ेगा।

5 कलवर्ट बनाई जाएंगी, रिटेनिंग वाॅल पर रेलिंग लगेगी : एस्कैप चैनल पर 18 मीटर स्पान के पांच कलवर्ट का प्रावधान रखा गया है। प्रमुख रूप से नगरा क्षेत्र औैर पटेल नगर में 2-2 और ब्रह्मपुरी में एक कलवर्ट का निर्माण किया जाएगा। कलवर्ट के रिटेनिंग वॉल पर सुरक्षा के लिए रैलिंग का प्रावधान रखा गया है।

खबरें और भी हैं...