पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

काेराेना संक्रमण रिटर्न की आंशंका:पाबंदी के बावजूद 3 दिन से ज्यादा समय तक ठहराए जा रहे हैं जायरीन

अजमेर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

काेराेना संक्रमण रिटर्न की आंशंका काे लेकर पुलिस और जिला प्रशासन अलर्ट हाे गया है, इसके तहत पुलिस नियमित रूप से हाेटल, गेस्ट हाउस और खादिमाें के निवास पर ठहरे जायरीन काे तीन दिन से ज्यादा नहीं रूकने की सलाह दे रही है, ताकि संक्रमण से बचाव हाे सके और वे सकुशल अपने घर पहुंच सकें, लेकिन पुलिस की इस कवायद पर हाेटल, गेस्ट हाउस संचालकाें की मनमानी ने पानी फेर दिया है।

उर्स शुरू हाेने से दस दिन पहले जिला पुलिस की ऎओर से दरगाह और आसपास के इलाकाें में स्थित करीब सवा दाे साै हाेटल, गेस्ट हाउस और खादिमाें काे नाेटिस देकर पाबंद किया था कि वे तीन दिन से ज्यादा अवधि तक किसी भी यात्री काे नहीं ठहराएं, लेकिन ज्यादा कमाई की लालच में हाेटल और गेस्ट हाउस संचालक इस नियम का उल्लंघन कर रहे हैं।

माैजूदा स्थिति यह है कि मंगलवार रात तक हाेटल, गेस्ट हाउस और खादिमाें के निवास स्थानाें पर करीब चार हजार से ज्यादा जायरीन ठहरे हुए हैं। इनमें से ज्यादातर जायरीन काे पांच से सात दिन हाे चुके हैं। दरगाह थाना प्रभारी दलबीर सिंह के अनुसार काेराेना गाइड लाइन की पालना के लिए पुलिस की ओर से हरसंभव काेशिश की जा रही है, लेकिन हाेटल, गेस्ट हाउस और दुकानदार अपने आर्थिक स्वार्थ के कारण गाइडलाइन का उल्लंघन कर रहे हैं। यह काेराेना संक्रमण फैलने के लिए खतरनाक स्थति है।
पिछले साल 4359 जायरीन हुए थे परेशानी का शिकार : पिछले साल अजमेर में उर्स समाप्ति के कुछ दिन बाद 26 मार्च काे पहला काेराेना पॉजिटिव मरीज सामने आया था। इसके बाद राज्य सरकार के आदेश के तहत मुस्लिम माेची मोहल्ला सहित तीन थाना क्षेत्राें में कर्फ्यू लगा दिया गया था, ताकि संक्रमण फैलने से राेका जा सके।

उर्स में शरीक हुए 4359 जायरीन भी हाेटल, गेस्ट हाउस और खादिमाें के निवास पर ठहरे हुए थे। देश के विभिन्न शहराें के इन लाेगाें काे मानसिक, शारीरिक पीड़ाएं भाेगनी पड़ी थी। हालत यह हाे गई थी कि बाहर के जायरीन काे खाने-पीने की वस्तु भी मुहैया नहीं हाे सकी थी।

इनमें महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग भी बड़ी संख्या में शामिल थे। स्थानीय लाेगाें और समाजसेवी संस्थाओं ने इन लाेगाें काे भाेजन व दवाएं मुहैया कराई थी। कई गेस्ट हाउस के संचालकाें ने जायरीन काे जबरन सड़क पर खड़ा कर दिया था। इस बारे में दैनिक भास्कर के 15 अप्रैल 2020 के अंक में समाचार प्रकाशित हाेने के बाद जिला प्रशासन ने फंसे जायरीन काे वाहन मुहैया करवा कर उनके घर तक पहुंचाया था।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें