लेडी डॉन को जेल में रखने से डरे जेलर:सुरक्षा का हवाला देकर कहा-अनुराधा को नहीं रख सकते, अब अजमेर सेंट्रल जेल भेजा

अजमेर7 महीने पहले

लेडी डॉन अनुराधा चौधरी को गुरुवार को अजमेर की सेंट्रल जेल की महिला बैरक में शिफ्ट कर दिया गया। अनुराधा को कोर्ट ने पहले डीडवाना जेल भेजा था, लेकिन जेलर ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए असहमति जता दी। इसके बाद जयपुर जेल आईजी विक्रमसिंह ने बात कर अजमेर सेंट्रल जेल भेजने के आदेश जारी करवाए गए।

गौरतलब है कि लेडी डॉन अनुराधा इंदर चंद अपहरण मामले में फरार चल रही थी। गिरफ्तारी के बाद पुलिस उसे परबतसर जेल से कड़ी सुरक्षा के बीच डीडवाना कोर्ट लेकर आई। इस दौरान उसे काफी देर तक पुलिस सुरक्षा में गाड़ी में ही बैठाए रखा। पेशी का समय आने पर सुरक्षा के साथ उसे कोर्ट में ले जाया गया। पेशी के बाद उसे डीडवाना जेल भेजने के आदेश दिए, लेकिन डीडवाना डिप्टी जेलर जितेन्द्र सिंह ने सुरक्षा का हवाला देते हुए असहमति जता दी। ऐसे में उसे अजमेर लाया गया।

लेडी डॉन अनुराधा को डीडवाना कोर्ट में किया पेश।
लेडी डॉन अनुराधा को डीडवाना कोर्ट में किया पेश।

इंदरचंद के किडनैप की मास्टरमाइंड थी लेडी डॉन
जीवण गोदारा हत्याकांड के मुख्य गवाह प्रमोद को होस्टाइल करने की नीयत से तब जेल में बंद आनंदपाल के इशारे पर इंदर चंद का अपहरण डीडवाना से कर लिया गया था। इस किडनैपिंग की मास्टरमाइंड अनुराधा चौधरी थी। बाद में महाराष्ट्र पुलिस के सहयोग से इंदरचंद को पुणे के पास से बरामद किया गया।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने सहारनपुर से पकड़ा था
तीन महीने पहले दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने कुख्यात गैंगस्टर और पति काला जठेड़ी के साथ लेडी डॉन अनुराधा चौधरी को यूपी के सहारनपुर से गिरफ्तार किया था। गिरफ्तारी के समय लेडी डॉन के पास से पिस्टल और जठेड़ी के पास रिवॉल्वर बरामद की गई थी। इसके बाद नागौर पुलिस उसे कुचामन के सट्‌टा कारोबारी को धमकाने और फायरिंग मामले में पूछताछ के लिए प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई थी। पुलिस पूछताछ के बाद से ही वो परबतसर जेल में बंद है।

खबरें और भी हैं...