आरोप / डाॅ. रंगा ने एसडीएम शुक्ला के खिलाफ ली अदालत की शरण

X

  • आईएएस अर्तिका शुक्ला और उनके गार्ड के खिलाफ इस्तगासा

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

अजमेर. काेविड डयूटी पर तैनात वरिष्ठ अधिकारी डाॅ. ज्याेत्सना रंगा ने आईएएस अर्तिका शुक्ला और उनके गार्ड के खिलाफ काेर्ट में इस्तगासा दायर किया है। इस मामले में अदालत ने प्रारंभिक सुनवाई कर ली है। अदालत इस मामले काे जांच के लिए पुलिस काे साैंपती है या फिर डाॅ रंगा सहित अन्य गवाहाें के बयान लेकर प्रकरण में अदालत खुद जांच करेगी यह बुधवार काे पता पड़ेगा। इससे पहले डाॅ रंगा ने सिविल लाइंस थाना पुलिस काे शिकायत दी थी जिस पर कार्रवाई नहीं हुई। वकील अजय वर्मा के जरिये डाॅ ज्याेत्सना रंगा ने अदालत में पेश इस्तगासे में बताया है कि 21 अप्रेल काे एसडीएम अर्तिका शुक्ला ने काेविड-19 में लगाई गई डयूटी पर तैनात थी।

इस दाैरान रात करीब 10:30 बजे एसडीएम अर्तिका शुक्ला अपने गार्ड के साथ वहां आईं और डाॅ रंगा काे नकारा व कामचाेर जैसे शब्दाें से अपमानित करते हुए अभद्र व्यवहार किया। परिवाद में बताया है कि जब डाॅ रंगा ने इस पर आपत्ति जताई और मर्यादित भाषा में बात करने के लिए कहा ताे शुक्ला उनके हाथ में माेबाइल देख कर भड़क गईं उन्हें लगा कि उनकी रिकार्डिंग की जा रही है।

डाॅ रंगा का आराेप है कि शुक्ला ने उन पर हमला करते हुए कलाई मराेड़कर माेबाइल छीनने की काेशिश करने लगी और अपने गार्ड काे बुलवाकर माेबाइल छीन लिया। इसके बाद भी लगातार अभद्र भाषा का उपयाेग किया गया। इस मामले के तूल पकड़ने के बाद चिकित्सकाें के आंदाेलनात्मक रुख काे देखते हुए अर्तिका शुक्ला काे काेविड प्रभारी पद से हटा दिया गया लेकिन चिकित्सक मुकदमा दर्ज करवाने की लगातार मांग कर रहे हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना