RBSE चेयरमेन के बयान पर विरोध:भाजपा ने राजस्थान बोर्ड कार्यालय के बाहर फूंका पुतला; कहा- REET में हुई धांधली पर पर्दा डालने के लिए कर रहे बेतुकी बयान बाजी

अजमेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बोर्ड के बाहर प्रदर्शन। - Dainik Bhaskar
बोर्ड के बाहर प्रदर्शन।

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के चेयरमेन डॉ. डी.पी. जारोली की ओर से दिए गए बयानों को लेकर भाजपा में आक्रोश बढ़ गया है। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा राजस्थान के कार्यकताओं ने राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के बाहर जारोली का पुतला फूंका और नारेबाजी कर रोष जताया। साथ ही कहा कि REET में हुई धांधली पर पर्दा डालने के लिए बेतुकी बयान बाजी की जा रही है, जो बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

बोर्ड के बाहर प्रदर्श करते लोग।
बोर्ड के बाहर प्रदर्श करते लोग।

प्रदेश अध्यक्ष एम. सादिक खान एवं भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा अजमेर जिला देहात के जिला अध्यक्ष हारून खान के नेतृत्व में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चे के बोर्ड के बाहर एकत्र हुए और जमकर नारेबाजी की। इस दौरान पुलिस जाब्ता भी मौजूद रहा। जिला अध्यक्ष हारून खान ने बताया कि रीट परीक्षा में धांधली पर पर्दा डालने के लिए जिस तरीके के बेतुके और मर्यादाओं से परे जाकर जो बयान अध्यक्ष ने देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ और राजस्थान भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया के खिलाफ दिया वह बहुत ही निंदनीय है और इनके ऐसे बयानों से भाजपा कार्यकर्ता आकोशित और गुस्से में है।

पुतला फूंकते कार्यकर्ता।
पुतला फूंकते कार्यकर्ता।

हारून खान ने कहा कि अगर बोर्ड अध्यक्ष जारोली ने माफी नहीं मांगी तो भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा इन्हें सड़क पर नहीं निकलने देगा और जगह-जगह उग्र प्रदर्शन करेगा। गहलोत सरकार अब जनता का भरोसा खो चुकी है और सरकार में बैठे लोगों से अर्नगल बयान दिलवाकर अपनी कमियों को ढकने का षडयंत्र रच रही है, जिसे अब राजस्थान की जनता किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं करेगी। जिला अध्यक्ष हारून ने बताया कि अगर रीट परीक्षा का पेपर लीक नहीं हुआ तो अधिकारियों को क्यों हटाया? बोर्ड अध्यक्ष सिर्फ बोखलाहट में ऐसे बयान दे रहे, क्योकिं रीट के पेपर लीक हुए हैं और पूरे राजस्थान की जनता जानती है कि पेपर लीक के तार कहां से जुड़े हुए है।

यह खबर भी पढे़ं...

REET-2021 का पेपर लीक हुआ, वायरल नहीं:MP किरोड़ीलाल के आरोपों पर बोले RBSE चेयरमैन- दिल्ली दरबार को खुश करने में त्याग रहे मर्यादा, गोपनीयता भंग के आरोप निराधार

खबरें और भी हैं...