रेजिडेंट डॉक्टर्स की हड़ताल:संपूर्ण कार्य बहिष्कार पर उतरे, मरीजों को हुई परेशानी, सीनियर डॉक्टर्स से संभाला मोर्चा

अजमेर2 महीने पहले
संपूर्ण कार्य बहिष्कार किया गया।

नीट पीजी सहित 8 सूत्री मांग को लेकर रेजिडेंट्स डॉक्टर सोमवार रात 8 बजे से संपूर्ण कार्य बहिष्कार पर उतर गए हैं। जिसके बाद इमरजेंसी सहित वार्ड में मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं, रेजिडेंट डॉक्टर्स ने चेतावनी दी है कि अगर इसके बाद भी सरकार उनकी मांगें नहीं पूरी करती हैं तो वह सीनियर डॉक्टर्स से वार्ता कर उन्हें भी अपनी हड़ताल में शामिल करेंगे।

रात 8 बजे बाद संपूर्ण कार्य बहिष्कार पर उतरे रेजिडेंट डॉक्टर्स
रात 8 बजे बाद संपूर्ण कार्य बहिष्कार पर उतरे रेजिडेंट डॉक्टर्स

अजमेर संभाग के सबसे बड़े जेएलएन अस्पताल में सोमवार रात 8 बजे रेजिडेंट डॉक्टर्स के हड़ताल पर चले जाने से कुछ समय के लिए व्यवस्थाएं गड़बड़ा गई। रेजिडेंट डॉक्टर ने 2 दिन पहले ही हड़ताल की चेतावनी दी थी। 6 दिनों से चल रहा बहिष्कार सोमवार रात पूर्ण रूप पर उतर गया।

रेजिडेंट डॉक्टर्स का कहना है कि वह नीट पीजी की काउंसलिंग जल्द करवाएं जाने की मांग कर रहे हैं, और 2 सालों से नया बैच नहीं आने के कारण पूरी जिम्मेदारी रेजिडेंट पर आ गई है। इस मामले को लेकर राज्य सरकार को 8 सूत्री मांग पत्र भी सौंपा गया। लेकिन इस मामले को लेकर कोई गंभीरता नहीं दिखाई गई। इसी कारण राजस्थान रेजिडेंट एसोसिएशन ने निर्णय लिया कि प्रदेश भर में संपूर्ण कार्य बहिष्कार किया जाए।

सीनियर डॉक्टर्स ने संभाला मोर्चा
सीनियर डॉक्टर्स ने संभाला मोर्चा

सीनियर डॉक्टर्स ने संभाला मोर्चा

जेएलएन अस्पताल में रेजिडेंट डॉक्टर्स के प्रदेशव्यापी आह्वान पर संपूर्ण कार्य बहिष्कार करने के बाद इमरजेंसी के बाहर प्रदर्शन किया। रेजिडेंट डॉक्टर्स की हड़ताल के चलते सीनियर चिकित्सकों, सीनियर रेजिडेंट डॉक्टरों ने इमरजेंसी में ड्यूटी दी।

यह खबर भी पढ़ें...

रेजिडेंट डॉक्टर्स की हड़ताल जारी:आज रात 8 बजे से संपूर्ण कार्य बहिष्कार की चेतावनी, अस्पताल के बाहर किया प्रदर्शन