• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • Fraudulently Grabbed Money: Took The Freight, But Did Not Send The Vehicles; Two Youths Of Badayu Uttar Pradesh Arrested, Amount Also Recovered, Interrogation Continues

भाड़ा ले लिया, लेकिन गाड़ियां नहीं भेजी:पुलिस ने उत्तरप्रदेश के दो युवकों को किया गिरफ्तार, राशि भी बरामद की, पूछताछ जारी

अजमेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गिरफ्तार आरोपी। - Dainik Bhaskar
गिरफ्तार आरोपी।

धोखाधड़ी कर रकम हड़पने के मामले में पुलिस ने उत्तरप्रदेश निवासी दो युवकों को गिरफ्तार किया है। दोनों ने मालभाड़ा लेने के बावजूद गाड़ियां रवाना नहीं की। पुलिस ने धोखाधड़ी कर हड़पी रकम भी बरामद कर ली है। आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

अजमेर SP जगदीशचन्द्र शर्मा के अनुसार, संस्कृती स्कूल के पास जनाना रोड अजमेर निवासी रामकिशोर यादव ने 30 अगस्त को रिपोर्ट देकर बताया कि वह ट्रांसपोर्ट का व्यवसाय करता है। 29 अगस्त को नसीराबाद से राजकोट सामान भिजवाने के लिए एक ग्रुप में मैसेज किया। इसके बाद अंशुल जैन नाम से व्यक्ति का फोन आया और 75 हजार का भाड़ा तय हुआ। उसके बताए खाते में 44 हजार रुपए भी डाल दिए, किन्तु उक्त व्यक्ति द्वारा माल की गाड़ियों का रवाना नहीं किया गया। फोन करने पर फोन नहीं उठाया जा रहा।

इस पर मामला दर्ज किया गया। शहवाजपुर, बदायू यू.पी. निवासी प्रिंसं अरोडा उर्फ अंशुल जैन (24) व श्यामनगर बदायू यू.पी. निवासी शोभित झा (24) को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों से हड़पी गई 44 हजार की राशि भी बरामद कर ली है।

तरीका वारदात

आरोपी देशभर के ट्रांसपोर्ट के वाट्सग्रुप से जुड़े रहते है। जैसे ही किसी ट्रांसपोर्टर द्वारा अपने माल के लोड के सम्बन्ध में कोई मैसेज डाला जाता है, तो इन्हें पता चल जाता है और उक्त ट्रांसपोर्टर से सम्पर्क कर उन्हें माल स्वयं द्वारा भिजवाने का झांसा देकर उनसे अपने खाते में माल लोड के रुपए डलवा कर धोखाधड़ी कर लेते है।

खबरें और भी हैं...