PNB से रिटायर्ड महिला मैनेजर से ऑनलाइन ठगी:बिजली बिल जमा नहीं होने की बात कहकर ऐप डाउनलोड करवाए; 3 खातों से निकाले करीब 2 लाख रुपए

अजमेर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीड़ित दम्पती-फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
पीड़ित दम्पती-फाइल फोटो

पंजाब नेशनल बैंक की रिटायर्ड मैनेजर महिला के साथ करीब 2 लाख की ऑनलाइन ठगी का मामला सामने आया है। आरोपी ने बिजली बिल जमा नहीं होने की बात बताकर ऐप डाउनलोड करवाए और बाद में जानकारी हासिल तीन खातों से यह राशि निकाली। पीड़िता की रिपोर्ट पर क्रिश्चयनगंज थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

राधेश्री गार्डन के सामने, वैशालीनगर निवासी नीलम वच्छानी ने बताया कि 27 मार्च को दोपहर लगभग तीन बजे उसके पति जगदीश चच्छानी के मोबाइल पर फोन आया कि आपका बिजली का बिल जमा नहीं हुआ है और ऐसे में कनेक्शन काट दिया जाएगा। इस दौरान इसी नम्बर से दोपहर डेढ़ बजे एसएमएस आया था। पति ने फोन उन्हें दे दिया और फिर लगभग 50 मिनट बात होती रही। इस बीच उन्हें क्विक सपोर्ट ऐप डाउनलोड और बाद विकौडा फोन ऐप डाउनलोड करने के लिए कहा। इसके बाद पहले दस रुपए का ट्रांजेक्शन कराया। इस दौरान यूआरएन नम्बर, यूटीआर नम्बर सहित ओटीपी आदि पूछे और पंजाब नेशनल बैंक के तीन खातों से 1 लाख 96 हजार 453 रुपए विड्रोल कर लिए।

मीनिमम बैलेंस भी नहीं छोड़ा, बेटे का फोन आने पर पता चला

दयाल वीणा डायग्नोस्टिक सेन्टर के डायरेक्टर जगदीश वच्छानी ने बताया कि आरोपी ने कईं ट्रांजेक्शन किए और तीन खातों में मिनिमम बैलेंस भी नहीं छोड़ा। एक खाते से 62 हजार 453, दूसरे खाते से 8 हजार व तीसरे खाते से 1 लाख 26 हजार रुपए की निकासी कर ली। संडे होने के कारण जब गुड़गाव से बेटे का फोन आया कि आज खाते से इतना विड्रोल क्यों कर रहे, तब पता चला। इसके बाद सभी खातों में लेनदेन बंद करा दिए और क्रिश्चयनगंज थाने पहुंचकर मामला दर्ज कराया। वच्छानी ने बताया कि उनका बिजली बिल 9 मार्च को ही जमा करा दिया गया था।