पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जवाब मांगा:गाैवंश संरक्षण पर हाईकाेर्ट ने सरकार से किया जवाब तलब

अजमेर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भूख से तड़पती गायों का कैसे भरेगा पेट ?

गोवंश संघर्ष समिति राजस्थान के कार्यकारिणी सदस्य एवं श्री सीता गौशाला अजमेर के प्रबंधक मनोज सिंघल ने बताया कि वरिष्ठ पत्रकार महेश झालानी की जनहित याचिका पर हाईकाेर्ट की खंडपीठ ने राज्य सरकार से जवाब तलब किया है। याचिकाकर्ता की ओर से पैरवी करते हुए अधिवक्ता दीनदयाल खंडेलवाल ने कहा हिंदू धर्म में गाय काे माता का दर्जा है, इसे दृष्टिगत रखते हुए राजस्थान सरकार स्टांप एक्ट में गाे वंश संरक्षण के लिए सरचार्ज लेने की व्यवस्था की गई थी। सरकार की काेताही से इस राशि का उचित रूप से उपयाेग नहीं हुआ और प्रदेश में 9 लाख से ज्यादा गायों के पेट भरने का संकट उत्पन्न हो गया है ।

गायाें का भरण पोषण काे लेकर दायर याचिका पर हाईकाेर्ट ने राज्य सरकार से जवाब तलब किया है। प्रकरण में आगामी सुनवाई 3 नवंबर काे तय की गई है। याचिका के माध्यम से महेश झालानी ने न्यायालय को बताया कि प्रदेश में करीब 25 हजार गाैशालाओं के माध्यम से 9 लाख गायों को चारे का बंदोबस्त किया जा रहा था । राज्य सरकार ने बजट में इजाफा करने के बजाय अचानक गोशालाओं के अनुदान में 40 प्रतिशत की कटौती कर दी है जिससे गायों के समक्ष चारे का संकट उत्पन्न हो गया है ।

खबरें और भी हैं...