वाइन शॉप संचालक ने जताई मर्डर की आशंका:वीडियो बनाकर बोला- यूपी से बुलाए हत्यारे, सिटी थाने पहुंचकर बचाई जान

अजमेर2 महीने पहले
दुकान संचालक अशोक बालोटिया।
  • आबकारी निरीक्षक पर भी दो लाख रुपए मिड टर्न में सामने दुकान खोलने का लगाया आरोप

अजमेर जिले के ब्यावर में वाइन शॉप संचालक ने अपने मर्डर की आशंका जताई है। रविवार रात सात अलग अलग वीडियो बनाकर आरोप लगाया कि उसे मारने के लिए दूसरे वाइन शॉप संचालक ने यूपी से हत्यारे बुलाए है। उसने अपनी जान बचाने के लिए ब्यावर सिटी थाने में शरण ली और पुलिस ने उसे घर पहुंचाया। उसने आबकारी निरीक्षक पर भी गलत रूप से दो लाख रुपए लेकर दुकान आवंटन करने का आरोप लगाया।

अशोक बालोटिया, वाइन शॉप संचालक।
अशोक बालोटिया, वाइन शॉप संचालक।

शराब दुकान संचालक अशोक बालोटिया ने बताया कि वह मूलत: महामंदिर जोधपुर का रहने वाला है और वर्तमान में अजमेर रोड ब्यावर में रहता है। उसकी पंडित मोटर्स के पास वाइन शॉप है। बालोटिया ने बताया कि आबकारी विभाग ने डेढ़ साल पहले गलत रूप से यूपी के ग्रुप को कमलेश कुमार के नाम से दुकान का आवंटन कर दिया। यह अवैध रूप से पानी मिलाकर शराब बेचते है, आबकारी विभाग की भी मिलीभगत है। इसको लेकर शिकायत की गई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। अब ये लोग उसकी हत्या करना चाहते हैं। पुलिस में फिलहाल शिकायत नहीं दी है।

वीडियो में सामने की शराब दुकान दिखाई और आरोप लगाया कि यही वो हत्यारे है, जो यूपी से बुलाए गए।
वीडियो में सामने की शराब दुकान दिखाई और आरोप लगाया कि यही वो हत्यारे है, जो यूपी से बुलाए गए।

रात में 7 वीडियो बनाए, ये बोला

  • मैं एक ही बात कहना चाहता हूं, कि अशोक गहलोत मुख्यमंत्री है और उनके राज में ही उनका ही बेटा शहीद होने वाला है, उसका नाम अशोक बालोटिया है।
  • मेरी जान तो जानी तय है, लेकिन इन्होंने जो यूपी से मर्डर करने के लिए बुलाए है, उनके वीडियो आपको बता रहा हूं।
  • ये प्रयागराज वाइंस है, जो यहां की नहीं है, यूपी की है। मरना तो मेरा तय है, लेकिन कम से कम अशोक गहलोत पर लांछन तो मत आने दिजिए।
  • मेरी कभी भी जान जा सकती है। ब्यावर का वृत आबकारी निरीक्षक है मादाराम मेघवाल, दो लाख तो मेरे से लिए, ये तो मैं कंफेंस कर रहा हूं, क्यों कि आज मेरा कुछ न कुछ तो तय है।
  • इसलिए वीडियो बना रहा हूं। मादा राम ने 2 लाख रुपए लेकर डेढ़ साल पुरानी दुकान को मिड टर्न में सामने लगाया और ये लोग मेरी जान के दुश्मन बन गए।
  • पीछे देख रहे हो, गाड़ियां पीछा कर रही है। ये एक्सीडेन्ट करके या कुछ करके मारेगी।
  • लाइव देख लिजिए, ये ब्यावर का सिटी थाना है, मैने यहां अपनी गाड़ी डालकर जान बचाई है।

शिकायत मिलेगी तो कार्रवाई करेंगे-सिटी थाना प्रभारी

इस सम्बन्ध में बात करने पर ब्यावर सिटी थाना प्रभारी सुरेन्द्रसिंह जोधा ने बताया कि फिलहाल कोई शिकायत नहीं मिली, शिकायत मिलेगी कार्रवाई की जाएगी।

आबकारी निरीक्षक का फोन नो-रिप्लाई

इस सम्बन्ध में बात करने के लिए आबकारी निरीक्षक माधाराम मेघवाल से सम्पर्क करने का प्रयास किया लेकिन उनका फोन नो-रिप्लाई रहा।

गत दिनों कलेक्टर के समक्ष अपनी पीड़ा बताता परिवार।
गत दिनों कलेक्टर के समक्ष अपनी पीड़ा बताता परिवार।

कलेक्टर को दे चुका आत्महत्या की धमकी

शराब की दुकान हटाने को लेकर कलेक्टर अंशदीप के ब्यावर पहुंचने पर शिकायत कर चुका है। अपनी पत्नी व बेटी के साथ पहुंचकर कलेक्टर से दुकान काे हटाने की मांग की। साथ ही वन विभाग का भुगतान करने की गुहार भी की। उसने इन परेशानियों के हल नहीं होने पर सामूहिक आत्महत्या की धमकी भी दी।

पीड़ित पहले वन विभाग का बकाया पेमेन्ट नहीं होने पर मुख्यमंत्री को शिकायत कर चुका है। अजमेर जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आए तो हॉस्पिटल में उनके काफिले के आगे आया और अपनी बात कही।