पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

नवरात्र के पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा:महाआरती में भक्तों का संदेश, दूरी बनाकर तोड़ेंगे कोरोना चेन

अजमेर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शारदीय नवरात्र के पहले दिन भक्तों ने मास्क लगाकर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मंदिरों में दर्शन किए। बजरंगगढ़ सर्किल स्थित अंबे माता मंदिर में जय अंबे नवयुवक सेवा ट्रस्ट की ओर से ‘नो मास्क, नो दर्शन’ का बैनर लगाया गया। मंदिर में ना तो भक्तों से प्रसाद चढ़ाने के लिए लिया गया, ना ही प्रसाद वितरित किया गया।

शाम 7 बजे महाआरती में सोशल डिस्टेंसिंग के लिए बनाए गए गोलों में ही भक्तों ने खड़े होकर मां अंबे के दर्शन किए। बता दें कि नवरात्र में अंबे माता मंदिर में सुबह 9 बजे और शाम को 7 बजे महाआरती आयोजित हो रही है। दूसरी ओर, चामुंडा माता मंदिर में भी सोशल डिस्टेंसिंग के साथ दर्शन की व्यवस्था की गई। शास्त्री नगर की पहाड़ियों में स्थित मेहंदी खोला माता मंदिर में भक्तों ने दर्शन कर सुख-समृद्धि की कामना की।

ऐसा पहली बार

रामलीला, जगराते और डांडिया के कार्यक्रम नहीं

कोविड-19 के कारण जगराते एवं डांडियों के सामूहिक कार्यक्रमों का आयोजन नहीं होगा। प्रशासन ने पहले ही सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है। निगम की ओर से हर साल होने वाले रामलीला, जगराता, दुर्गा पूजन एवं दशहरे पर होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रम भी नहीं होंगे।

सुबह घरों में घट स्थापना

शारदीय नवरात्र के पहले दिन घर-घर मां शक्ति की आराधना हुई। सुबह घरों में घट स्थापना की गई। इसके बाद मां अंबे की पूजा-अर्चना कर सुख-समृद्धि की कामना की गई। घरों में मां अंबे की आरती कर स्तुतिगान किया गया। मां के भक्तों ने 9 दिनों की आराधना का प्रण लेते हुए व्रत रखने की भी शुरुआत की। कई लोगों ने मौन व्रत और कई लोगों ने नंगे पैर रहने का प्रण लिया।

आज मां ब्रह्मचारिणी की पूजा

मां दुर्गा का दूसरा स्वरूप देवी ब्रह्मचारिणी का है, जो पूर्ण रूप से ज्योतिर्मय है। इनकी उपासना से मनुष्य में तप, त्याग, वैराग्य, सदाचार, संयम की वृद्धि होती है। जीवन के कठिन संघर्षों में भी मन कर्तव्य-पथ से विचलित नहीं होता। मां की कृपा से सर्वसिद्धि प्राप्त होती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें