पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • More Than 100 Infected In The District For The Second Consecutive Day, 4 Maats, 6 JLN Nursing Workers Are Also Positive

कोविड-19 के मामलों में उछाल:जिले में लगातार दूसरे दिन भी 100 से ज्यादा संक्रमित मिले, 4 माैत, जेएलएन के 6 नर्सिंगकर्मी भी पॉजिटिव

अजमेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अजमेर में तीन और ब्यावर में एक माैत, अजमेर में 66, ब्यावर में 17, किशनगढ़ 6, नसीराबाद 4 व केकड़ी में 3 पाॅजिटिव

जिले में लगातार दूसरे दिन बुधवार काे साै से ज्यादा काेराेना पाॅजिटिव मरीज मिले, जबकि 4 और संक्रमिताें की माैत हाे गई। जेएलएन के विभिन्न वार्ड में कार्यरत 6 नर्सिंगकर्मियाें की रिपाेर्ट पाॅजिटिव आई है। बुधवार काे अजमेर में 66, ब्यावर में 17, किशनगढ़ 6, नसीराबाद 4 और केकड़ी में 3 काेराेना पाॅजिटिव मरीज मिले, जबकि धाेलाभाटा, गुलाबबाड़ी, प्लाजा राेड और ब्यावर के तेजा चाैक निवासी एक-एक संक्रमित की माैत हाे गई। अब तक जिले में संक्रमित मरीजाें की संख्या 1827 तक पहुंच गई है, जबकि काेराेना संक्रमण से 66 लाेगाें की माैत हाे चुकी है।

पाॅजिटिव नर्सिंगकर्मियाें काे सस्पेक्ट वार्ड में कराया
जेएलएन के विभिन्न वार्ड में कार्यरत अब तक 11 नर्सिंगकर्मी काेराेना पाॅजिटिव हाे चुके हैं। बुधवार काे 6 नर्सिंगकर्मियाें की रिपाेर्ट पाॅजिटिव आने के बाद सस्पेक्ट वार्ड में भर्ती कराया गया। पहली मंजिल पर 6 और दूसरी पर 5 नर्सिंग पाॅजिटिव भर्ती है। ऑर्थाेपिडिक और सर्जिकल आईसीयू की एक-एक फिमेल नर्सिंगकर्मी, एक मेल नर्सिंग पाेस्ट ऑपरेटिव वार्ड, तीन मेल नर्स यूराेलाॅजी के सस्पेक्ट वार्ड में कार्यरत थे। इन सभी की रिपाेर्ट पाॅजिटिव आई है।

परिजन रहे मौजूद, निगम के कार्मिकाें की निगरानी में हुआ अंतिम संस्कार

बुधवार काे संक्रमिताें की माैत के बाद तीन शवाें का अंतिम संस्कार उनके परिजनाें की माैजूदगी में कराया गया। हालांकि रस्म अदायगी के ताैर पर शव भले ही परिजनाें काे सौंपने की बात कही गई मगर शव पूरी तरह प्लास्टिक बैग में पैक ही रखे गए। परिजन निगम कार्मिकाें की मदद से पैक किए गए दिवंगत के शव काे गैसचालित शवदाह गृह तक ले गए।

मृतकाें में एक का जयपुर में, तीन पाॅजिटिव का ऋषिघाटी गैस शवदाह गृह माेक्षधाम में अंतिम संस्कार किया गया। बुधवार रात ब्यावर निवासी पाॅजिटिव की माैत हाेने के बाद उसके शव काे गुरुवार सुबह सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा।

कोरोना संक्रमण से दम तोड़ने वालों में 3 वृद्ध और एक युवा शामिल

1. धाेलाभाटा हीना गार्डन निवासी 75 वर्षीय महिला की साेमवार रात रिपाेर्ट काेराेना पाॅजिटिव आई थी। महिला का जयपुर के महात्मा गांधी में उपचार चल रहा था। जहां बुधवार काे उपचार के दाैरान माैत हाे गई।

2. प्लाजा के धानका बस्ती निवासी 60 वर्षीय वृद्ध ने बीती रात मंगलवार काे आइसाेलेशन वार्ड में दम ताेड़ दिया। 3. गुलाबबाड़ी राजा काेठी निवासी 60 वर्षीय वृद्ध की मंगलवार रात आइसाेलेशन वार्ड में उपचार के दाैरान माैत हाे गई, जबकि बुधवार सुबह रिपाेर्ट आने पर पता चला कि वह काेराेना पाॅजिटिव था।

4. ब्यावर के तेजा चाैक निवासी 45 वर्षीय युवक काे बुधवार रात अजमेर रेफर किया था। यहां उपचार के दाैरान उसकी माैत हाे गई। मृतक के शव को सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा। अंतिम संस्कार को लेकर परिजन से राय ली जाएगी।

काेविड वार्ड : गर्भवती नर्सों की ड्यूटी का विरोध

जनाना अस्पताल में पिछले कुछ दिनों से नर्सिंगकर्मियों में डयूटी काे लेकर नर्सिंग अधीक्षक से विवाद की स्थिति बन रही है। यहां नियमों के विपरीत डयूटी लगाने का मामला सामने आ रहा है। नियमों के तहत आइसोलेशन वार्ड में राेटेशन से डयूटी लगाई जानी चाहिए, वह भी 14 दिन के अंतराल से। यहां पूरे माह कुछ नर्सिंगकर्मियों की डयूटी लगा दी गई।

यहां पर कार्यरत दाे नर्सिंगकर्मी गर्भवती बताई जा रही है। इस मामले काे लेकर वह प्रशासन काे अवगत करवा चुकी है। गत दिनों लगातार विवाद के बाद अस्पताल की नर्सिंग अधीक्षक काे बदला गया था। नर्सिंग जेएलएन के प्रिंसिपल ओर अधीक्षक दाेनाें से मिलकर कार्रवाई की मांग गुरुवार काे करेंगे। नर्सिंग अधीक्षक से उनका पक्ष जानने का प्रयास किया गया लेकिन उनसे संपर्क नहीं हाे सका।

ट्राेमा सेंटर को बना दिया पॉजिटिव वार्ड

जेएलएन अस्पताल प्रशासन ने बुधवार काे आपातकालीन यूनिट के निकट ही संचालित ट्राेमा वार्ड में नया काेविड वार्ड खाेल दिया। जेएलएन में पहले ही यूरोलॉजी वार्ड, आइसोलेशन में काेविड वार्ड खाेल रखा है। इस पर भी नया काेविड वार्ड बना दिए जाने से संक्रमण फैलने का अंदेशा बढ़ जाएगा।

जेएलएन काे आम मरीजों के लिए खाेल दिए जाने के बाद अस्पताल की बिल्डिंग में संक्रमित मरीजों काे नहीं रखा जा रहा था। इसी कारण आम मरीज ओर परिजन आसानी से घूम रहे थे। गौरतलब है कि ट्राेमा सेंटर के निकट ही नर्सिंग अधीक्षक कक्ष है। जहां पर सभी नर्सिंग साइन करने आते हैं। इसी से सटकर पूरे अस्पताल के लिए रात में दवा काउंटर खुला हुआ है। सामने की ओर न्यूरो सर्जरी विभाग है। यहां पर आमजन का आना जाना लगा रहता है। ऐसे में यहां काेई भी संक्रमित के संपर्क में आ सकता है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें