• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • On The First Day The Place Was Reduced And Now Empty; 114 Arrangements In 57 Rooms Of Quarantine Center RRTI Located In Ghughara, 4 People Staying

अजमेर में बेवजह घूमने वालों पर अंकुश:पहले दिन जगह कम पड़ गई और अब खाली; घूघरा स्थित क्वारैंटाइन सेंटर के 57 कमरों में 114 की व्यवस्थाएं, रह रहे सिर्फ 4 लोग

अजमेर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
क्वारेंटाइन सेंटर RRTI - Dainik Bhaskar
क्वारेंटाइन सेंटर RRTI

अजमेर में बेवजह घूमने वालों को पकड़ कर क्वारैंटाइन करने के लिए घूघरा स्थित राजस्व प्रशिक्षण संस्थान (RRTI) के हॉस्टल में व्यवस्थाएं की गईं। यहां पहले दिन 25 कमरों की व्यवस्था कम पड़ गई, जिसे बढ़ा कर 57 कमरों में की गई। पुलिस की सख्ती का असर दिखा और 11 दिन बाद ही यह व्यवस्थाएं ज्यादा साबित होने लगी है। यहां 114 के रहने की व्यवस्था है और वर्तमान में यहां केवल 4 लोग रह रहे हैं। इसके पीछे का कारण पुलिस की सख्ती है, जिसके चलते बेवजह घूमने वालों पर अंकुश लगा।

क्वारैंटाइन सेंटर RRTI में खाली पडे़ बेड।
क्वारैंटाइन सेंटर RRTI में खाली पडे़ बेड।

पहले दिन पकडे़ थे 152 लोग, कल पकड़े 4

पुलिस की ओर से पहले दिन 3 मई को 152 लोगों को पकड़ा था और यहां पर 25 कमरों में 2-2 लोगों को ठहराने की व्यवस्थाएं की गई थी। ऐसे में जगह कम पड़ गई। बाद में यहां अन्य कमरे भी खोल कर इनकी संख्या 57 कर दी। ताकि जगह की कमी बाधा नहीं बने। लेकिन इसके बाद यहां पकड़कर लाने वालों की संख्या किसी भी दिन 62 से ज्यादा नहीं हुई। वर्तमान में हालात यह है कि 13 मई को केवल 4 लोगों को पकड़ कर यहां छोड़ा गया।

जांच के बाद हिदायत देकर छोड़ा गया

यहां पकड़कर क्वारैंटाइन किए जाने वाले लोगों की रोजाना RT-PCR जांच की जाती थी और इसके बाद नेगेटिव आने पर हिदायत देकर छोड़ दिया जाता था और पॉजिटिव आने पर संबंधित डिस्पेंसरी की निगरानी में होम आइसोलेट किया जाता था।

गौरतलब है कि पहले दिन 3 मई को 152, 4 मई को 44, 5 मई को 62, 6 मई को 24, 7 मई को 33, 8 मई को 44, 9 मई को 21, 10 मई को 23, 11 मई को 16, 12 मई को 19 व 13 मई को 4 लोगों को यहां पर क्वारैंटाइन किया गया।

क्वारैंटाइन सेंटर RRTI में चिकित्सा टीम
क्वारैंटाइन सेंटर RRTI में चिकित्सा टीम

बहाने ही ऐसे कि पुलिस काे विश्वास करना मजबूरी

इसमें कोई दो राय नहीं कि पुलिस की सख्ती के चलते बेवजह घूमने वालों पर अंकुश लगा, लेकिन यह भी सही है कि अभी भी कुछ लोग बेवजह घूम रहे हैं। लेकिन उनके पास बहाने ही ऐसे होते है कि पुलिस को विश्वास करना पड़ता है। लोगों की ओर से दवा लेने, वैक्सीन लगाने, चिकित्सक को दिखाने, फल सब्जी लेने, दूध लेने आदि के बहाने बनाए जाते है, ऐसे में पुलिस भी कुछ नहीं करती।

खबरें और भी हैं...