• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • Police Arrested The Main Accused, Looking For Others; Instead Of Handing It Over To The Police, He Was Thrown Into The Room In A Bloody Condition.

चोरी के शक में युवक की हत्या का मामला:मुख्य आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार, अन्य की तलाश; पुलिस को सौंपने के बजाय लहुलुहान हालात में कमरे में लाकर पटक दिया था

अजमेर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चोरी के शक में युवक को पीट-पीट कर मारने वाले एक आरोपी को पुलिस ने पकड़ लिया है, वहीं अन्य लोगों की तलाश की जा रही है। आरोपियों के खिलाफ मृतक की मां ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी। मामला अजमेर के अन्दरकोट क्षेत्र का है, जहां एक युवक का शव मिला और पड़ताल करने पर पता चला कि इस युवक की चोरी के शक में पिटाई कर बाद में पुलिस को सौंपने के बजाय एक कमरे में ले जाकर पटक दिया।

दरगाह थाना प्रभारी दलवीरसिंह ने बताया कि मां हसीना बानो की रिपोर्ट पर नवेद, परवेज, जुनेद व उनके पिता लतीफ पर मारपीट कर हत्या करने के आरोप में मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी। इस मामले में पुलिस ने मंगलवार देर रात शम्मी शहजाद मंजिल, ढाई दिन का झोपड़ा के पास, अंदरकोट दरगाह निवासी नवेद खान (29) को गिरफ्तार कर लिया। अन्य आरोपियों के बारे में आरोपी से पूछताछ करने के साथ तलाश की जा रही है।

मुख्य आरोपी नवेद
मुख्य आरोपी नवेद

यह है मामला

9 अगस्त की देर शाम अंदरकोट इलाके से एक व्यक्ति ने पुलिस को शव मिलने की सूचना दी। दरगाह थाना पुलिस मौके पर पहुंची। मृतक की शिनाख्त गरीब नवाज कॉलोनी निवासी इशाद अली (20) के रूप में हुई। फर्श पर खून बिखरा हुआ था। इशाद के सिर, चेहरे और हाथ-पैर में कई चोटें हैं। एफएसएल टीम बुलाकर जांच कराई गई। शव को अजमेर में जवाहर लाल नेहरू अस्पताल की मॉर्चरी में रखा गया और 10 अगस्त को पोस्टमार्टम कर परिजनों को शव सौंप दिया गया। मृतक की मां ने हत्या का मामला दर्ज करवाया।

सुबह की गई थी युवक की पिटाई

मृतक की मां हसीना बानो ने पुलिस को बताया कि सुबह कुछ लोगों ने उसे सूचना दी कि उसके बेटे को कुछ लोग पीट रहे है। वह वहां पहुंची तो पता चला कि युवक 8 अगस्त की अलसुबह एक दुकान में दीवार फांद कर घुसा था और भीतर सो रहे दुकान मालिक ने उसे पकड़ लिया। चोरी के शक में युवक को पीटना शुरू कर दिया। इस दौरान मौके पर परिवार के अन्य लोगों ने उसे जमकर पीटा था। उसने मारपीट नहीं करने और पुलिस को सौंपने की गुहार की, लेकिन आरोपियों ने एक नहीं सुनी। आरोपी उसे लहूलुहान हालत में पुलिस को सौंपने की बात कहते हुए वैन में लेकर चले गए। इसके बाद थाने पर भी गई, लेकिन इशाद का पता नहीं चला। शाम को सूचना मिली कि युवक की लाश मिली है। मृतक की तीन माह पहले ही शादी हुई थी। वह फुटकर मजदूरी करता था।

यह भी पढे़ं...

रंगेहाथ पकड़े गए चोर को पीट-पीटकर मार डाला:दीवार फांद कर घुसा तो दुकान मालिक के परिवार ने पकड़ कर पीटा, मां हाथ जोड़कर गिड़गिड़ाती रही, लेकिन किसी ने नहीं सुनी VIDEO

खबरें और भी हैं...