पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • RPSC Professor General Grammar (Sanskrit Education) Competitive Examination 2018; Counseling Of Disadvantaged Candidates On 5 April

राजस्थान लोक सेवा आयोग:प्राध्यापक-सामान्य व्याकरण (संस्कृत शिक्षा) प्रतियोगी परीक्षा-2018; वंचित अभ्यर्थियों की 5 अप्रैल को होगी काउंसलिंग

अजमेर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
23 मार्च को अनुपस्थित रहे अभ्यर्थियों को 5 अप्रैल 2021 को समय प्रातः 10 बजे से शाम 5 बजे तक उपस्थित होने के लिए एक अंतिम अवसर प्रदान किया जा रहा है। - Dainik Bhaskar
23 मार्च को अनुपस्थित रहे अभ्यर्थियों को 5 अप्रैल 2021 को समय प्रातः 10 बजे से शाम 5 बजे तक उपस्थित होने के लिए एक अंतिम अवसर प्रदान किया जा रहा है।

राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा प्राध्यापक-सामान्य व्याकरण (संस्कृत शिक्षा) प्रतियोगी परीक्षा-2018 के वंचित अभ्यर्थियों की काउंसलिंग 5 अप्रैल को आयोजित की जाएगी। आयोग ने इस संबंध में दिशा-निर्देश जारी किए।

आयोग की संयुक्त सचिव नीतू यादव ने बताया कि इस परीक्षा की अतिरिक्त विचारित सूची में सम्मिलित अभ्यर्थियों के लिए पूर्व में 8 मार्च 2021 को काउंसलिंग आयोजित की गई। इस काउंसलिंग में किसी कारण से अनुपस्थित रहे अभ्यर्थियों को आयोग द्वारा 23 मार्च 2021 को पुनः काउंसलिंग के लिए आमंत्रित किया गया, जिसमें कुछ अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे। आयोग द्वारा अनुपस्थित रहे अभ्यर्थियों को 5 अप्रैल 2021 को समय प्रातः 10 बजे से शाम 5 बजे तक उपस्थित होने के लिए एक अंतिम अवसर प्रदान किया जा रहा है।

यादव ने बताया कि उपस्थित होने वाले अभ्यर्थियों को निर्देशित किया जाता है कि वे काउंसलिंग के संबंध में पूर्व में जारी आवश्यक दिशा-निर्देश के तहत वांछित दस्तावेज आदि के साथ काउंसलिंग के लिए काउंसलिंग स्थल-राजस्थान लोक सेवा आयोग, अजमेर में उपस्थित हो सकेंगे। इसके लिए पूर्व में ऑनलाइन जारी काउंसलिंग-पत्र ही मान्य होगा। अलग से कोई पत्र जारी नही किया जायेगा। इस निर्धारित दिनांक को काउंसलिंग में उपस्थित नहीं होने पर अभ्यर्थी को काउंसलिंग से वंचित कर दिया जाएगा, इस के लिए अन्य कोई अवसर देय नहीं होगा।

यादव के अनुसार काउंसलिंग में अनुपस्थित रहे अभ्यर्थी अन्तिम परिणाम के लिए योग्य नहीं होंगे, जिसकी जिम्मेदारी स्वयं अभ्यर्थी की होगी। काउंसलिंग के लिए उपस्थित होने वाले सभी अभ्यर्थियों को कोविड-19 महामारी के संबंध में राज्य/केन्द्र सरकार द्वारा जारी निर्देशों की पूर्णतः पालना करनी होगी। काउंसलिंग में शामिल अभ्यर्थियों को आयोग द्वारा कोई यात्रा भत्ता/दैनिक भत्ता देय नहीं होगा।

खबरें और भी हैं...