राजस्थान बोर्ड 12वीं आट्‌र्स, 3% गिरा रिजल्ट:पासिंग परसेंटेज में जैसलमेर टॉपर, धौलपुर सबसे पीछे रहा

अजमेर8 महीने पहलेलेखक: सुनिल जैन

RBSE (राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड) ने 12वीं आट्‌र्स का रिजल्ट जारी कर दिया है। पिछले साल के मुकाबले, इस साल रिजल्ट 2.86% कम रहा। 2020 से तुलना करें तो रिजल्ट 6.16% ज्यादा रहा। दरअसल, कोरोना महामारी के चलते सेशन-2021 में एग्जाम नहीं हुए थे। फाॅर्मूले से रिजल्ट जारी किया गया था।

भास्कर ने एक्सपर्ट की टीम के साथ रिजल्ट का पूरा एनालिसिस किया। सामने आया कि सिलेबस में 30% कटौती के कारण बच्चों पर दबाव कम रहा। सप्लीमेंट्री का आंकड़ा 2 पर्सेंट भी नहीं रहा। इस कारण पासिंग परसेंटेज में बढ़ोतरी हो गई।

देर से शुरू हुए सेशन के कारण बच्चों व टीचर्स ने ज्यादा मेहनत की। उसका फायदा भी मिला। इस साल स्टूडेंट्स के मार्क्स भी अच्छे आए। करीब साढे़ छह लाख बच्चों में से 3 लाख 39 हजार 474 ने फर्स्ट डिवीजन आए, जो करीब 55.04 प्रतिशत है। इसी 39.33 प्रतिशत 2 लाख 42 हजार 582 सेकेंड डिवीजन पास हुए 34 हजार 654 ने थर्ड डिवीजन हासिल किया। जो 5.61 प्रतिशत रहा। पास होने वालों की संख्या केवल 35 है। पढ़िए-भास्कर एनालिसिस...।

जैसलमेर रहा अव्वल
आट्‌र्स के रिजल्ट में जैसलमेर फर्स्ट रहा। यहां पासिंग पर्संटेज 98.15 रहा। जैसलमेर में 5512 ने फोर्म भरा था और 5398 शामिल हुए। इनमें से 3106 फर्स्ट डिविजन, 1904 सेकेंड डिविजन, 285 थर्ड डिविजन पास हुए। 3 केवल पास हुए। यहां अन्य जिलों के मुकाबले बच्चों की संख्या भी कम थी। दूसरे स्थान पर सीकर, तीसरे स्थान पर सिरोही, चौथे स्थान पर नागौर, पांचवे स्थान पर जालोर रहे।

धौलपुर रहा फिसड्‌डी
इस रिजल्ट में सबसे कम पासिंग प्रतिशत 93.82 धौलपुर का रहा। यहां 12347 छात्रों ने फॉर्म भरा और 12062 शामिल हुए। इनमें से 4379 फर्स्ट डिविजन, 5289 सेकेंड डिविजन, 1646 थर्ड डिविजन पास हुए। 3 केवल पास हुए। दूसरे स्थान पर उदयपुर, तीसरे पर सवाई माधोपुर, चौथे पर बांसवाड़ा व पांचवें स्थान पर प्रतापगढ़ रहे।

इन जिलों का ऐसा रहा रिजल्ट
अलवर का 96.33, भरतपुर और हनुमानगढ़ का 96.63, भीलवाड़ा का 96.35, बीकानेर का 96.57, चित्तौडगढ़ का 96.32, जयपुर का 96.53, झुन्झुनु का 96.37, झालावाड़ का 96.54, जोधपुर का 96.34, कोटा का 96.26, टोंक का 96.61, हनुमानगढ़ का 96.63 प्रतिशत रहा।

12वीं आर्ट्स के रिजल्ट को लेकर एक्सपर्ट व्यू
12वीं आर्ट्स के रिजल्ट को लेकर एक्सपर्ट व्यू

एक्सपर्ट व्यू...

रिजल्ट को लेकर जोहरी ने कहा कि यह वो बैच है जिसकी पिछले साल कक्षा 11 में परीक्षा नहीं हो पाई थी। इस वर्ष भी ऑफ लाइन, ऑन लाइन शिक्षण कार्य हुआ। कुछ सलेबस कम किया गया। ऐसी स्थितियों में यह परीक्षा परिणाम बीते सालों के मुकाबले अच्छा रहा।

पिछले साल नहीं हुए थे एग्जाम
कोरोना के कारण पिछले एकेडमिक सेशन में एग्जाम नहीं कराए गए थे। राज्य सरकार की ओर से तय किए गए फार्मूले के आधार पर प्रमोट कर रिजल्ट घोषित किया गया था। इस बार कोरोना की लहर थमने के बाद एग्जाम कराने का निर्णय लिया गया। पढ़ाई डिस्टर्ब होने के चलते सिलेबस 30% कम कर दिया गया था। ऐसे में परीक्षा के बाद रिजल्ट तैयार किया गया है।

ऐसा रहा था पिछले 5 सालों का रिजल्ट
ऐसा रहा था पिछले 5 सालों का रिजल्ट

पढे़ं ये खबर भी...

RBSE-12वीं आर्ट्स का रिजल्ट जारी:96.33 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए, लड़कियां फिर आगे रहीं

अजमेर जिले के टॉपर्स की PHOTOS:आर्ट्स में 95.13% रहा ओवरऑल रिजल्ट, 96.37% लड़कियों ने मारी बाजी