पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • Relief To Villagers In Caronakal; 39 Thousand 664 Workers Are Getting Daily Work In The Gram Panchayats Of The District

महात्मा गांधी नरेगा योजना:काेरोनाकाल में ग्रामीणों को राहत; जिले की ग्राम पंचायतों में 39 हजार 664 श्रमिकों को मिल रहा रोजाना काम

अजमेर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोनाकाल में महात्मा गांधी नरेगा योजना से मिल रहे रोजगार से ग्रामीणों को राहत मिली है। योजना से वर्तमान में 39 हजार 664 श्रमिकों को अपने निवास के पास ही रोजगार उपलब्ध है। जिले की 325 ग्राम पंचायतों में से 317 में इस योजना के माध्यम से कार्य करवाया जा रहा है। वर्तमान में कार्यो से वंचित पंचायत समिति सावर की 3, जवाजा की 2, केकड़ी, सरवाड एवं सिलोरा की एक-एक ग्राम पंचायतों में भी शीघ्र ही नए कार्य आरम्भ किए जाएंगे।

राज्य सरकार ने ग्रामीणों को राहत देने के लिए मई माह में महात्मा गांधी नरेगा कार्यों को कोरोना प्रोटोकॉल के साथ आरंभ करने का निर्णय लिया। ग्रामीणों ने इस निर्णय के तुरन्त बाद काम मांगना आरम्भ कर दिया। जिला परिषद द्वारा स्वीकृत कार्यों के ई-मस्टररोल जारी किए गए। कोरोना गाइडलाइन की पालना के कारण सीमित संंख्या में ही श्रमिकों का नियोजन हो पा रहा था। इसके बावजूद बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने महात्मा गांधी नरेगा के माध्यम से कोरोना काल में रोजगार प्राप्त किया।

गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण से आमजन प्रभावित हुआ। संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन लगाया गया। इससे आर्थिक गतिविधियों का संचालन लगभग बंद हो गया। आर्थिक गतिविधियों में मन्दी का प्रभाव दैनिक श्रम तथा मजदूरी पर भी पड़ा। मनरेगा में रोजगार मिलने से ग्रामीणों को काफी राहत मिली है।

पंचायत समिति, ग्राम पंचायत व रोजगार की स्थिति

  • पंचायत समिति अजमेर ग्रामीण की 41 ग्राम पंचायतों में 5851 श्रमिकों को रोजगार।
  • पंचायत समिति अंराई की 22 ग्राम पंचायतों में 2607 श्रमिकों को रोजगार।
  • पंचायत समिति भिनाय की 25 ग्राम पंचायतों में 2764 श्रमिकों को रोजगार।
  • पंचायत समिति मसूदा की 40 ग्राम पंचायतों में 5410 श्रमिकों को रोजगार।
  • पंचायत समिति पीसांगन की 24 ग्राम पंचायतों में 3095 श्रमिकों को रोजगार।
  • पंचायत समिति श्रीनगर की 25 ग्राम पंचायतों में 2372 श्रमिकों को रोजगार।
  • पंचायत समिति जवाजा की 46 में से 44 पंचायत समितियों के 3823 श्रमिकों को रोजगार।
  • पंचायत समिति केकड़ी की 22 में से 21 ग्राम पंचायतों में 3881 श्रमिकों को रोजगार।
  • पंचायत समिति सरवाड़ की 26 में से 25 ग्राम पंचायतों के 2809 श्रमिकों को रोजगार।
  • पंचायत समिति सावर की 21 में से 18 ग्राम पंचायतों में 3851 श्रमिकों को रोजगार।
  • पंचायत समिति सिलोरा की 33 में से 32 ग्राम पंचायतों के 3201 श्रमिकों को रोजगार।
खबरें और भी हैं...