• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • Statues Of Jhulelal With Drums, Shehnai, Band Instruments And City Tour Will Be Held; No Tableaux Will Be Decorated, Only Those With RT PCR Test Report Will Be Included

अजमेर में चेटीचंड जुलूस कल:ढोल, शहनाई, बैंड बाजे के साथ झूलेलाल की प्रतिमाओं का होगा नगर भ्रमण; नहीं सजेंगी झांकियां, RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट वाले ही होंगे शामिल

अजमेर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
12 बजे संत महात्माओं व गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में श्री झूलेलाल साहब की मूर्तियों के रथ के साथ शोभा यात्रा का शुभारंभ होगा। - Dainik Bhaskar
12 बजे संत महात्माओं व गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में श्री झूलेलाल साहब की मूर्तियों के रथ के साथ शोभा यात्रा का शुभारंभ होगा।
  • तैयारियों को दिया अंतिम रूप, जुलूस का रूट तय

अजमेर में सिंधी समाज के इष्टदेव झूलेलाल के अवतरण दिवस चेटीचण्ड के अवसर पर मंगलवार को जूलूस निकाला जाएगा, लेकिन हर साल की तरह इस साल झांकियां शामिल नहीं होगी। केवल झूलेलाल साहब की प्रतिमाओं का नगर भ्रमण बहराणा साहब व ढोल शहनाई बैंड बाजे आदि के साथ होगा। साथ ही जुलूस में RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट वाले ही शामिल होंगे। इसकी तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया गया है।

पूज्य लाल साहिब मंदिर सेवा ट्रस्ट के महासचिव जयकिशन पारवानी ने बताया कि यह निर्णय प्रधान ट्रस्टी प्रभु लौंगाणी और हेमनदास छबलानी की अध्यक्षता में ट्रस्ट की बैठक में लिया गया। बैठक में राज्य सरकार द्वारा कर्फ्यू के समय में परिवर्तन किए जाने पर असंतोष व्यक्त किया गया, जिसके कारण झांकियों के साथ शोभायात्रा शाम 7 बजे तक निकाला जाना संभव नहीं हो पाया। ट्रस्ट ने कोरोना महामारी की परिस्थितियों को देखते हुए आह्वान किया कि कोई भी खुला प्रसाद नहीं बांटे, पैकिंग करके हाथों में गलब्स पहन कर व मास्क लगाकर ही बांटें। अध्यक्ष प्रचार कमेटी अध्यक्ष विजय कुमार हंसराजनी ने बताया कि बैठक में बैठक में ताराचंद लालवानी, शंकरदास बदलानी, हीरानंद कलवानी, मनोज पमनानी आदि मौजूद रहे।

ध्वजारोहण आज

सोमवार को शाम 6 बजे पूजा पाठ व विधि विधान के साथ शहनाई ढोल बाजे की धुन पर गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में ध्वजारोहण होगा।

कल के ये होंगे कार्यक्रम

मंगलवार को सुबह 6:30 आरती के बाद भजन कीर्तन मुंडन संस्कार पलांद छुड़वाने व जनेऊ संस्कार आदि परंपरागत कार्यक्रम होंगे। इसके साथ ही 10 बजे बहराणा साहब की स्थापना कर भजन कीर्तन पंजड़े कलाम होंगे। 11 बजे पूज्य झूलेलाल साहिब की ज्योत प्रज्वलित कर महाआरती होगी। 12 बजे संत महात्माओं व गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में श्री झूलेलाल साहब की मूर्तियों के रथ के साथ शोभा यात्रा का शुभारंभ होगा।

ऐसी होगी शोभायात्रा व यह रहेगा रूट

शोभायात्रा में ध्वजा के साथ पूज्य लाल साहब के सेवादारी घोड़े पर सवार रहेंगे। जिसके बाद ढोल शहनाई के साथ में बहराणा साहब की सवारी सेवा धारी श्रद्धालु व समाज बंधुओं के साथ नाचते गाते ढोल बाजे शहनाई की धुन पर डांडिया लगाते हुए चलेंगे। श्री झूलेलाल साहब की प्रतिमाओं का रथ बैंड बाजे के साथ होगा। झूलेलाल धाम दिल्ली गेट से रवाना होकर गंज, महावीर सर्किल, आगरा गेट, नया बाजार, गोल प्याऊ, चूड़ी बाजार, जीपीओ गांधी बाजार, मदार गेट, क्लॉक टावर, पान दरीबा पहुचेंगे।

यहां से पड़ाव, कैसरगंज, रावण की बगीची, तिलक नगर, चांद बावड़ी, आशा गंज, राजेंद्र स्कूल, मयानी अस्पताल, गुरु नानक कॉलोनी, नवाब का बेड़ा टंकी के पास होकर हालाणी दरबार, हेमू कालानी चौक, प्लाजा सिनेमा, गिदवानी मार्केट,कवंडसपुरा, मदार गेट, नाला बाजार, दरगाह बाजार, धान मंडी, दिल्ली गेट होते हुए फिर झूलेलाल धाम पर पहुंचेगी। जहां पर श्री बालंबो साहब (कुआं) पर भजन कीर्तन करके आरती के बाद ज्योति विसर्जन की जाएगी व पल्लव अरदास पाकर प्रसाद के साथ मेले की समाप्ति की जाएगी।

खबरें और भी हैं...