पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सनक:ऐसी सनक; रात को नींद से जगाया, मां-भाई की हथौड़े से पीटकर हत्या

अजमेर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • भिनाय में युवक ने अपने ही परिवार के साथ खेला मौत का खेल

अजमेर जिले के भिनाय स्थित इंदिरा कॉलोनी में बुधवार रात एक सनकी युवक के सिर पर ऐसा खून सवार हुआ कि उसने अपने ही परिवार पर जानलेवा हमला कर दिया। युवक ने आधी रात को घर की बिजली बंद कर एक-एक कर सदस्याें काे बुलाकर उनके सिर पर हथाैड़े से वार करना शुरू कर दिया।

पहले आराेपी अमरचंद ने मां कमला देवी और छोटे भाई शिवराज की हत्या की। इसके बाद पिता रामधन, 3 भाइयों ओमप्रकाश, ताराचंद व भागचंद और 10 साल की भतीजी वंशिका पर भी ताबड़तोड़ वार किए। इन्हें आरोपी ने मरा हुआ समझकर छोड़ दिया।

आरोपी की भाभी ने खुद को कमरे में बंद कर किसी तरह अपनी जान बचाई और शोर मचाया। इस दौरान बचाने आए एक पड़ोसी पर भी वार किया और फरार हाे गया। 15 घंटे बाद पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से गिरफ्तार कर लिया। जानकारी के अनुसार बुधवार रात्रि करीब दाे बजे आरोपी अमरचंद ने सोची-समझी साजिश के तहत मेन स्विच बाेर्ड से कटआउट निकालकर मकान की लाइट बंद की और सबसे पहले नीचे कमरे में सो रही मां कमला देवी के सिर में हथौड़े से वार कर उसकी हत्या कर दी।

दादी के पास साे रही भतीजी वंशिका पर भी हथाैड़े से हमला किया। उसके बाद पास ही के कमरे में सो रहे छोटे भाई शिवराज को यह कहकर नींद से जगाया कि मां बुला रही है। जैसे ही वह उठा, अमरचंद ने उसके भी सिर में हथौड़े से ताबड़तोड़ वार किए जिससे उसकी भी मौके पर ही मौत हो गई।

उसके बाद नीचे बरामदे में सो रहे बड़े भाई ओमप्रकाश व बुधवार को ही अपेंडिक्स का ऑपरेशन करा कर लाैटे भाई भागचंद पर भी हथौड़े से जानलेवा हमला कर दिया। इनको मृत समझ वह छत पर बने कमरे में सो रहे अपने भाई ताराचंद व भाभी रेखा को मारने के इरादे से वहां पहुंच गया।

अमरचंद ने भाई व भाभी को भागचंद की तबीयत खराब होने का हवाला देते हुए पानी गर्म करने के लिए नीचे आने के लिए कहा और नीचे पहुंचते ही ताराचंद के सिर पर हथौड़े से वार कर दिया। देवर काे हमला करते देखकर रेखा के चिल्लाने पर अमरचंद ने भाभी का गला दबाकर उसे मारने की कोशिश की लेकिन उसने भागकर पास वाले कमरे में अपने आप को बंद कर अपनी जान बचाई।

अमरचंद का पिता रामधन घर के बाहर साे रहा था।

शोर-शराबे की आवाज सुनकर रामधन ने अपने घर में आने की कोशिश की परंतु दरवाजा अंदर से बंद होने के कारण वह घर के पीछे लगे पेड़ पर चढ़कर छत से घर के अंदर पहुंचा। वहां पहुंचते ही आरोपी अमरचंद ने पिता से कहा कि कुछ नहीं हुआ है, आप परेशान मत हों यह कहकर पिता पर भी हथौड़े से हमला कर दिया।

परिवार वालों के चिल्लाने पर आस-पड़ोस के लोग मौके पर पहुंचे। अमरचंद ने बीच-बचाव करने आए पड़ोसी भंवरलाल माली पर हमला कर दिया और करीब चार बजे मौके से फरार हो गया। शाम करीब पांच बजे अमरचंद काे भिनाय पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से पकड़ा।

रात 2 से 4 बजे; कमरे से लेकर छत तक;
दो घंटे खेलता रहा मौत का खेल

रीट की तैयारी कर रहा था आराेपी |आराेपी अमरचंद अपने चारों भाइयों के साथ जयपुर में रहता था। अमरचंद व शिवराज कंपटीशन की तैयारी करते थे, ओमप्रकाश, ताराचंद, भागचंद काम करते थे। अमरचंद बीएड के बाद रीट की तैयारी कर रहा था।

अमरचंद के भाई भागचंद का अजमेर में अपेंडिक्स का ऑपरेशन हुआ था जिसके लिए पिछले 7 दिन से अमरचंद, भागचंद, ओमप्रकाश अजमेर में ही रह रहे थे वे बुधवार को ही भिनाय लौटे थे।रीट की तैयारी कर रहा था आराेपी |ईराेपी अमरचंद अपने चारों भाइयों के साथ जयपुर में रहता था।

अमरचंद व शिवराज कंपटीशन की तैयारी करते थे, ओमप्रकाश, ताराचंद, भागचंद काम करते थे। अमरचंद बीएड के बाद रीट की तैयारी कर रहा था। अमरचंद के भाई भागचंद का अजमेर में अपेंडिक्स का ऑपरेशन हुआ था जिसके लिए पिछले 7 दिन से अमरचंद, भागचंद, ओमप्रकाश अजमेर में ही रह रहे थे वे बुधवार को ही भिनाय लौटे थे।

...और नाटक, ग्रामीणों ने मां-भाई बारे में बताया तो रोने लगा शाम 5 बजे पुलिस ने आरोपी को 15 किमी दूर निमेड़ा में पकड़ा। उसने ग्रामीणों से परिवार के बारे में पूछा। मां-भाई की मौत का पता चला तो रोने लगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें