आत्मरक्षा के गुर:छात्राओं को आत्मरक्षा के गुर सिखाने के लिए प्रशिक्षण ले रहीं शिक्षिकाएं

अजमेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

स्कूली छात्राओं को आत्मरक्षा के गुर सिखाने और निडरता से किसी भी प्रकार के संकट का सामना करने के लिए जिलेभर में अध्यापिकाओं को ट्रेनिंग दी जा रही है। अजमेर ब्लॉक में रानी लक्ष्मीबाई आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर (गैर आवासीय) राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय तोपदड़ा में 13 दिसंबर से आयोजित किया जा रहा है। मंगलवार को जिला शिक्षा अधिकारी एवं प्राचार्य, अल्प भाषा शिक्षण प्रशिक्षण संस्थान तरनजीत कौर के मुख्य आतिथ्य में प्रारंभ हुआ। उन्होंने महिलाओं को मानसिक रूप से सशक्त होने के लिए प्रेरित करने के बारे में जानकारी दी।

स्पीक अप एप के बारे में भी बताया गया। कार्यक्रम में शिविर प्रभारी सुरेंद्र पाल चौधरी,राजबाला, प्रशिक्षक रितु बाला पाठक, स्नेह लता, भावना ने प्रशिक्षण दिया। संचालन सत्यनारायण शर्मा ने किया। मालूम हो कि शिक्षा विभाग के आदेश जारी किए जाने के बाद भी शिविर के दूसरे दिन 12 पीटीआई गैर हाजिर रहे।

पुष्कर के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय आयोजित छह दिवसीय गैर आवासीय आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर में पीसांगन ब्लॉक की 150 शिक्षिकाएं आत्मरक्षा के गुर सीख रही हैं। स्कूल की प्रधानाचार्य एवं शिविर प्रभारी निशा वाजा ने बताया कि छह दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का सोमवार को पीसांगन के मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी हेमंत कुमार मिश्रा ने विधिवत शुभारंभ किया।

इस मौके पर अति. मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी नवरत्न सिंह, पुखराज प्रजापति, महेंद्र गुजराती, रमेश चंद शर्मा, सहायक प्रशासनिक अधिकारी अरुण बाबू पाराशर एवं दक्ष प्रशिक्षक आदि उपस्थित थे। शिविर में पीसांगन ब्लॉक के विभिन्न विद्यालयों की 150 शिक्षिकाएं भाग ले रही है। शिविर का समापन 18 दिसंबर को होगा।

खबरें और भी हैं...