पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • The Crisis Of Livelihood Due To Business Affected Due To Corona; Memorandum Submitted In The Name Of Chief Minister, Said Relief In Rules Also

प्राइवेट बस संचालकों ने मांगा आर्थिक पैकेज:कोरोना के कारण प्रभावित हुए व्यापार से रोजी रोटी का संकट; मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन, कहा-नियमों में भी मिले राहत

अजमेर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कलेक्ट्रेट पहुंचे बस संचालक - Dainik Bhaskar
कलेक्ट्रेट पहुंचे बस संचालक

कोरोना के कारण प्रभावित हुए व्यापार से रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया है और ऐसे में सरकार आर्थिक पैकेज की घोषणा करने के साथ नियमों में भी राहत दें। इस को लेकर प्राइवेट बस एसोसिएशन ने जिला कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा है।

अजमेर रीजन प्राइवेट बस ऑनर्स एसोसिएशन की ओर से मुख्यमंत्री के नाम सौंपे ज्ञापन में बताया कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर के प्रकोप के कारण निजी बसों का संचालन करना बहुत कठिन हो गया है एवं कोरोना गाईडलाईन की अनुपालना व शादी समारोह या किसी भी प्रकार के आयोजनों में सीमित संख्या में लोगो का सम्मलित होने की पाबंदियों के कारण भी इस व्यवसाय पर बहुत असर पड़ा है। लॉकडाउन की बाध्यता हटने के बाद भी व्यवसाय आगामी समय में गति में आने की संभावना भी नहीं है।

निजी बस संचालक पूर्व से ही मंहगे डीजल, महंगे कलपूर्जे, अत्यधिक टैक्स, फाइनेंस की किश्तें, स्टॉफ का वेतन और मंहगाई के आर्थिक बोझ से दबे है और अब कोरोना महामारी ने और आर्थिक बोझ से दबा दिया है। जिसके कारण कई लोगों की रोजी रोटी पर गहरा संकट आ गया है।

अत: मोटर यान कर एक साल की अवधि के लिए पूर्णतः माफ करने, वाहन बीमा अवधि जो वाहनो की हैं, उन्हे भी आगामी समय के लिए बढ़ाने, वाहनों के सम्बन्धित दस्तावेजो की अवधि भी बढ़ाने, आर. सी. सरेन्डर के नियमों में बिना शर्त छूट देने व आर्थिक पैकेज जारी किया जाये। साथ ही निजी यात्री बसों के किराए पर 40 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी, निजी बसों में CNG किट लगवाने के लिए ब्याज मुक्त ऋण प्रदान करने व राज्य सरकार की ओर से निजी बस मालिको को डीजल पर सबसिडी प्रदान करने की मांग की।

खबरें और भी हैं...