• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • The nursing staff of the team who went to survey in Chishtinagar misbehaved, asked ... Will Kareena run away by writing names and addresses? Sued 25

ऐसे कैसे जीतेंग जंग / चिश्तीनगर में सर्वे करने गई टीम के नर्सिंग स्टाॅफ से बदसलूकी, पूछा... क्या नाम-पते लिखने से काेराेना भाग जाएगा? 25 पर मुकदमा दर्ज

चिश्तीनगर में सर्वे टीम से बदसलूकी करता व्यक्ति। चिश्तीनगर में सर्वे टीम से बदसलूकी करता व्यक्ति।
X
चिश्तीनगर में सर्वे टीम से बदसलूकी करता व्यक्ति।चिश्तीनगर में सर्वे टीम से बदसलूकी करता व्यक्ति।

  • अजमेर में काेराेना के पांच लाेग पाॅजीटिव पाए जाने के बाद चिकित्सा विभाग, जिला प्रशासन की और से पुलिस की मदद से पूरे शहर में घर-घर मेडिकल सर्वे कराया जा रहा है

  • ताकि काेराेना वायरस की चेन काे ताेड़ा जा सके इसके तहत शहर में 190 मेडिकल टीमें काम कर रही हैं, टीम में डाॅक्टर, नर्सिंग कर्मचारियाें के अलावा नर्सिंग स्टूडेंट भी शामिल है

दैनिक भास्कर

Apr 07, 2020, 07:40 AM IST

अजमेर. वैश्विक महामारी काेराेना से लड़ाई में जहां पूरा देश लाॅकडाउन की पीड़ा भाेग रहा है, हमारे काेराेना फाइटर्स डाॅक्टर, मेडिकल कर्मचारी, पुलिसकर्मी और सफाई कर्मचारी अपनी जान जाेखिम में डालकर मैदान में डटे हुए हैं, इन हालाताें में अजमेर रामगंज इलाके के चिश्तीनगर में लाेगाें की गैर जिम्मेदाराना हरकत सामने आई है। रविवार काे चिश्ती नगर इलाके में सर्वे करने पहुंची टीम के नर्सिंग स्टाॅफ के साथ लाेगाें ने बदसलूकी की और उन्हें प्रताड़ित किया।

क्या नाम-पते लिखने से काेराेना वायरस भाग जाएगा

लाेगाें ने टीम काे यह कहकर लाैटा दिया कि क्या नाम-पते लिखने से काेराेनावायरस भाग जाएगा? उन्हें समझाया गया कि सर्वे इसलिए हो रहा है कि परिवार में काेई बीमार ताे नहीं है, किस घर में बाहर के मेहमान रुके हुए हैं? बीमारी के लक्षण वालाें की स्क्रीनिंग और सैम्पल वरिष्ठ चिकित्सकाें की टीम द्वारा ली जाएगी, लेकिन क्षेत्रवासियाें पर समझाइश का असर नहीं हुआ और उन्हाेंने टीम काे प्रताड़ित कर वापस लाैटा दिया। रामगंज थाना पुलिस ने चिकित्सा विभाग के अधिकारियाें की रिपाेर्ट पर इलाके के 25 लाेगाें के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। 

अजमेर में काेराेना के पांच लाेग पाॅजीटिव पाए जाने के बाद चिकित्सा विभाग, जिला प्रशासन की और से पुलिस की मदद से पूरे शहर में घर-घर मेडिकल सर्वे कराया जा रहा है, ताकि काेराेना वायरस की चेन काे ताेड़ा जा सके। इसके तहत शहर में 190 मेडिकल टीमें काम कर रही हैं, टीम में डाॅक्टर, नर्सिंग कर्मचारियाें के अलावा नर्सिंग स्टूडेंट भी शामिल है। उल्लेखनीय है कि दिल्ली में तब्लीगी जमात के मरकज में शामिल लाेगाें में वायरस की पुष्टि के बाद देशभर में मुस्लिम बाहुल्य इलाकाें में एहतियात के ताैर पर बारीकी से सर्वे किया जा रहा है। 


सर्वे का विरोध, जमकर किया हंगामा
रविवार काे रामगंज थाना क्षेत्र में चिश्ती नगर इलाके में मेडिकल टीम घर-घर जाकर यह डिटेल एकत्र कर रही थी कि परिवार के कितने लाेग हैं, बाहर से अाया काेई मेहमान या किराएदार है या नहीं, परिवार में किसी के खांसी, जुकाम, बुखार या सांस लेने संबंधित काेई परेशानी है या नहीं? परिवार के लाेगाें की उम्र और अाईडी भी सर्वे टीम द्वारा चेक की जा रही है। चिश्ती नगर में जब टीम ने लाेगाें से यह सवाल किया कि क्या घर में काेई मेहमान बाहर से अाया है? ताे कुछ लाेग भड़क गए और क्षेत्रवासियाें ने एकत्र हाेकर सर्वे का विराेध करते हुए हंगामा मचा दिया। दूसरी अाेर घटना के विराेध में राजकीय नर्सिंग महाविद्यालय के छात्राें ने सीएमएचअाे कार्यालय पर प्रदर्शन किया।

वीडियाे वायरल हाेने से लोगों में आक्राेश, नर्सिंगकर्मियाें ने किया प्रदर्शन

सीएमएचअाे कार्यालय पर प्रदर्शन के लिए जमा हुए नर्सिंग स्टॉफ व छात्र।

शर्मनाक हरकत करने वालाें ने पूरी घटना का वीडियाे बनाकर साेशल मीडिया पर वायरल कर दिया। वीडियाे से आमजन में आक्राेश है। लाेगाें का कहना है कि इस मुसीबत की घड़ी में जाे लाेग आमजन के लिए जान जाेखिम में डालकर काम कर रहे हैं, उनका सम्मान हाेना चाहिए, लेकिन चिश्ती नगर के लाेगाें ने इनसे बदसलूकी कर गैर जिम्मेदाराना हरकत की है। इससे मेडिकल स्टाॅफ का हाैसला टूटेगा। 
बदसलूकी पर इन धाराओं में कसा कानूनी शिकंजा | पुलिस, चिकित्सा, स्वास्थ्य विभाग, सुरक्षा एजेंसियाें के जवान, हाेमगार्ड और सफाई कर्मियाें के साथ बदसलूकी और मारपीट करने वालाें के खिलाफ राजकार्य में बाधा डालने वालाें के खिलाफ धारा 188, 332, 353, 147, 148, 149, 270, 269, 336, 295 ए  और आपदा प्रबंधन अधिनियम व चिकित्सीय कार्य अधिनियम की धारा के तहत कार्रवाई की जा रही है। थाना प्रभारी नरपत सिंह के अनुसार आराेपी अब्दुज मजीद, अब्दुल लतीफ, वसीम, जुबेर, साहिल, नदीम, निजामुद्दीन, साहिल, जावेद, रहमान, आरिफ सहित 25 लाेगाें के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

यह जान लें... लाॅकडाउन ताेड़ने पर हाे रही है कार्रवाई

  • साेशल मीडिया पर भ्रामक सूचनाएं पाेस्ट करने पर धारा 188, 270, 505, आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा के तहत मुकदमा
  • लाॅकडाउन के उल्लंघन पर धारा 188 के तहत मुकदमा।
  • लापरवाही पूर्वक संक्रमण फैलाने की गतिविधि में लिप्त पाए जाने वालाें पर भादंसं की धारा 269 और 270 के तहत मुकदमा।
  • क्वारेंटाइन किए जाने के बावजूद घराें से बाहर पाए जाने पर भादंसं की धारा 271 के तहत मुकदमा।
  • कोरोना फाइटर्स से बदसलूकी और मारपीट करने वालाें के खिलाफ धारा 188, 332, 353 और आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा के तहत मुकदमा व गिरफ्तारी।
  • कालाबाजारी करने पर आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत कार्रवाई।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना