पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राशि वसूली नहीं:16 कराेड़ की वसूली के लिए कुर्की वारंट लेकर पहुंचा दल, खाली हाथ लाैटा

अजमेर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • डिक्रीधारक रामके कंपनी के प्रतिनिधि ने एतराज जताया लेकिन राशि उपलब्ध नहीं हाेने की वजह से राशि वसूल नहीं हाे पाई

कचरा परिवहन व सफाई के कार्य से जुड़ी रामके एनवाराे कंपनी ने नगर निगम से 16 कराेड़ रुपए से ज्यादा की वसूली के लिए कुर्की की कार्रवाई शुरू कर दी है। जिला न्यायालय के नाजिर राजेश जैन मंगलवार काे दल के साथ कुर्की वारंट लेकर नगर निगम पहुंचे लेकिन वसूली नहीं हाेने की वजह से दल काे खाली हाथ लाैटना पड़ा। नाजिर राजेश जैन ने मंगलवार काे नगर निगम आयुक्त डाॅ. खुशाल यादव से अदालती आदेश के तहत राशि का भुगतान करने काे कहा।

नगर निगम आयुक्त ने निगम के काेष में इतनी रकम नहीं हाेने का हवाला देते हुए इस संबंध में राज्य सरकार से मार्गदर्शन के लिए माेहलत चाही। निगम आयुक्त का यह भी कहना था कि अभी ताे निगम के कार्मिकाें काे वेतन देना ही बाकी है और इतनी माेटी रकम का भुगतान एकदम से नहीं किया जा सकता है। डिक्रीधारक रामके कंपनी के प्रतिनिधि ने एतराज जताया लेकिन राशि उपलब्ध नहीं हाेने की वजह से राशि वसूल नहीं हाे पाई। मामले के अनुसार रामके कंपनी के पास जब शहर की सफाई और कचरा परिवहन का ठेका था तब निगम व कंपनी के बीच भुगतान काे लेकर विवाद हाे गया था। कंपनी ने नगर निगम के विरूद्ध वाणिज्यिक न्यायालय में याचिका दायर कर दी जिसका फैसला कंपनी के पक्ष में हुआ और अदालत ने 9 अगस्त 2018 काे कंपनी के पक्ष में डिक्री जारी कर दी थी जिसके तहत अब वसूली की प्रक्रिया चल रही है।

6 कराेड़ से ज्यादा ब्याज

नगर निगम के खिलाफ कंपनी की मूल रकम 9 कराेड़ 10 लाख 886 रुपए थे। इस पर अब तक ब्याज के 6 कराेड़ 89 लाख 25 हजार 629 रुपए जुड़ गए हैं। इस तरह की कुल रकम 16 कराेड़ रुपए से ज्यादा हाे गई है।

खबरें और भी हैं...