प्रधानमंत्री आवास योजना:दाे ग्राम विकास अधिकारियाें से वसूली हाेगी, दाे वार्षिक वेतन वृद्धि भी रुकेगी

अजमेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कार्रवाई }प्रधानमंत्री आवास याेजना में गलत स्वीकृति व अनियमितता

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) में अपने चहेताें के लिए गलत स्वीकृति व अनियमित भुगतान किए जाने का मामला सामने आया है। जिला परिषद प्रशासन ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए मंगलवार काे अरांई पंचायत समिति की ग्राम पंचायत दादिया के दाे ग्राम सेवकाें से वसूली किए जाने के आदेश जारी करने के साथ ही उनके वेतन वृद्धि भी राेके जाने के आदेश जारी किए हैं।

जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डाॅ. गाैरव सैनी ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना में अरांई पंचायत समित की ग्राम पंचायत दादिया में रहने वाले पोखर पुत्र रामधन खारोल का चयन हुआ था। ग्राम पंचायत स्तर पर पत्रावली आने के बाद प्रशासन ने प्रधानमंत्री आवास याेजना के तहत राशि स्वीकृत कर दी। इस मामले में नियम उल्लंघन की शिकायत पर मुख्य कार्यकारी अधिकारी डाॅ. गाैरव सैनी ने जिला स्तरीय अधिकारियाें से जांच कराई। अधिकारियाें ने मंगलवार काे अपनी रिपाेर्ट जिला परिषद प्रशासन काे साैंप दी।

जांच में टीम ने बताया कि लाभार्थी का पूर्व में दो मंजिला पक्का आवास बना हुआ है। इन सबके बावजूद नियम दरकिनार करके ग्राम विकास अधिकारी सुभाष कुलहरी व मुकेश भांभी ने इन्हें याेजना की राशि जारी कर दी। ग्राम विकास अधिकारियाें ने आवास की स्वीकृति जारी करते हुए प्रथम व द्वितीय किश्त का भुगतान तक कर दिया।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ गौरव सैनी ने योजना के प्रावधानों की पालना नहीं किए जाने व अपात्र लाभार्थी की स्वीकृति जारी किए जाने व किश्त के अनियमित भुगतान पर दाेनाें ग्राम विकास अधिकारियाें के विरुद्ध कार्रवाही करते हुए तुरंत प्रभाव से दो वार्षिक वेतन वृद्धि रोके जाने व किए गए अनियमित भुगतान की वसूली कर राशि राजकोष में जमा कराने के विकास अधिकारी को निर्देश जारी किए हैं।

खबरें और भी हैं...