• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • Two Suspects Were Staying With The Deceased In The Hotel For Five Hours; CCTV Scanned Around 50 Places, Police Got Important Clues, Search For Accused

अजमेर में जायरीन हत्या मामला:पांच घंटे होटल में मृतक के साथ रहे थे दो युवक; करीब 50 जगह के CCTV खंगाले, पुलिस के हाथ लगे अहम सुराग, आरोपियों की तलाश

अजमेर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अजमेर के होलीदड़ा क्षेत्र के गेस्ट हाउस में हुई हत्या के मामले में दरगाह थाना पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे है। क्षेत्र के करीब 50 जगहों के CCTV व मोबाइल कॉल डिटेल खंगालने पर पता चला है कि दो संदिग्ध युवक 2 अगस्त को उससे मिलने आए। वे उसके साथ पांच घंटे तक कमरे में उसके साथ रहे और बाद में चले गए। पुलिस ने इन दोनों संदिग्धों की पहचान भी कर ली है और उनको पकड़ने के लिए दो टीम भी भेजी है। आरोपियों के पकड़े जाने पर जल्द ही पुलिस मामले का खुलासा भी कर सकती है।

यह था मामला

4 अगस्त की सुबह जैद गेस्ट हाउस के कमरे से दुर्गंध आने की सूचना दरगाह थाना पुलिस को मिली। वहां जाने पर पता चला कि बाहर से ताला लगाया हुआ है। इस पर हालात संदिग्ध मानते हुए एफएसएल और एमओबी की टीम को बुलाया। ताला खोलकर साक्ष्य जुटाए। शव से बदबू आ रही थी। बाद में एफएसएल और एमओबी टीम ने साक्ष्य जुटाए। मृतक का शव जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय पहुंचाया और परिजन को सूचना की। मृतक की पहचान मुरादाबाद UP निवासी मोहम्मद माजिद साबरी (33) के रूप में हुई।

परिजन को सौंपा शव

5 अगस्त की सुबह परिजन के पहुंचने पर जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय के चीरघर में मृतक के शव का पोस्टमार्टम कराया गया और शव परिजन के सुपुर्द कर दिया। दरगाह थाना प्रभारी दलवीरसिंह ने बताया कि मृतक के भाई मोहम्मद साजिद की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर लिया है। साजिद ने ही पुलिस को बताया कि मृतक फकीरी जिन्दगी जिया करता था और पांच साल से वह घर नहीं आया। केवल फोन पर ही बाते करता था। मृतक के पत्नी और 8 व 6 साल के दो पुत्र है। गले में दुपट्टा मिलने से माना जा रहा है कि उसका गला घोंट कर मारा गया।

तीनों ने दो बार चाय पी

मृतक जिस होटल में रूका हुआ था, वहां पर दो संदिग्ध युवक आए और तीनों ने वहां पांच घंटे बिताए। इस दौरान तीनों ने यहां पर दो बार चाय भी पी। एक बार चाय मृतक लेकर गया और दूसरी बार संदिग्ध युवक चाय लेकर गया। दरगाह थाना प्रभारी दलवीरसिंह ने बताया कि CCTV और मोबाइल कॉल डिटेल खंगालने के बाद संदिग्धों पर शक है और उनकी तलाश के लिए दो टीम रवाना की गई है। तीनों की आपस में बातचीत होती थी और अंतिम बार भी बात हुई।

मृतक युवक सूफी संतों की दरगाह में घूमता था। फकीरों की जिंदगी जिया करता था। पिछले पांच साल से वह घर नहीं गया, लेकिन फोन पर सम्पर्क में था। वहीं, वह रूड़की के क्लीयर शरीफ से ट्रेन के AC कंपार्टमेंट में यात्रा कर 28 को अजमेर पहुंचा था।

यह खबर भी पढें...

अजमेर में जायरीन हत्या:5 साल से घर पर नहीं गया मृतक, फोन पर सम्पर्क में था; फकीरों की तरह रहता था, लेकिन AC ट्रेन से यात्रा कर अजमेर पहुंचा था

गेस्ट हाउस में जायरीन की हत्या:गला घोंट कर मारा, कमरा बंद कर लगाया ताला; बदबू आने पर पर पहुंची पुलिस तो हुआ खुलासा, मुरादाबाद UP निवासी है मृतक

खबरें और भी हैं...