पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वायरस को लेकर जनजागरूकता:महिलाओं के टाॅप्स, साेने चांदी के जेवरात पर 5 दिन जिंदा रहता है वायरस

अजमेर9 दिन पहलेलेखक: मनीष सिंह चाैहान
  • कॉपी लिंक
कम्यूनिटी मेडिसिन यूनिट में तैयार किए जा रहे प्राेजेक्ट। - Dainik Bhaskar
कम्यूनिटी मेडिसिन यूनिट में तैयार किए जा रहे प्राेजेक्ट।

प्रदेश में काेराेना की दूसरी लहर में 24 गुणा तेजी से काेराेना के मरीज सामने आ रहे हैं, लेकिन महामारी काे लेकर आम व्यक्ति द्वारा बरती जा रही लापरवाही भी चरम पर है। ऐसे में जनजागरूकता के लिए जेएलएन मेडिकल काॅलेज की कम्युनिटी मेडिसिन यूनिट लाेगाें काे बताने का प्रयास कर रही हैं कि काेराेना का वायरस किस वस्तु पर कितने समय तक जीवित रहता है।

विभागाध्यक्ष डाॅ. रेणु बेदी के साथ डाॅ. भरत मेहरड़ा, कामिनी, राजकुमार, किरण, अंजू, करुणा, गीता व इरशाद अली की टीम जानकारियां जुटा रही है। डाॅ. बेदी के साथ मुताबिक अखबार या सूखे कागज पर यदि काेराेना के वायरस लग जाता है ताे वह कुछ सैकंड ही जीवित रहता है लेकिन कई वस्तुओं और गीले व कम तापमान वाली जगह पर सबसे अधिक 28 दिन तक जिंदा रहता है। डाॅ. रेणु बेदी ने बताया कि काेविड-19 वायरस लायसाेल, ब्लीचिंग पाउडर, सेनेटाइजर व साबुन से पांच चरणों में हाथ धाेने पर 10 से 15 सैकंड में काेविड वायरस नष्ट हाे जाता है। महिलाओं के लिए सबसे ज्यादा चिंता करने वाली एक जानकारी यह भी है कि महिलाओं के टाॅप्स, साेने चांदी के अन्य जेवराताें पर काेराेना वायरस 5 दिन तक जिंदा रहता है।

जानिए-किस वस्तु पर कितने दिन एक्टिव रहता है वायरस

  • कागज या टीशू पेपर पर महज कुछ सैकंड।
  • गीले कागज पर 5 दिन।
  • तांबा या पीतल पर चार घंटे।
  • मानव हाथों पर 10 मिनट।
  • सूखे क्षेत्र में तीन से चार घंटे।
  • गीला एरिया और कम तापमान में 28 दिन।
  • सर्जिकल मास्क पर सात दिन।
  • नाेटाें के बंडल या खुले में 4 दिन।
  • फेब्रिक शूज पर 3 दिन।
  • स्टील के बर्तन, रेफ्रीजरेशन, पानी की बाेतल पर 3 दिन।
  • मिल्क कंटेनर, डिटर्जेंट बाेटल, बस की सीट पर 3 दिन।
  • लकड़ी के फर्नीचर पर 3 दिन।
  • महिलाओं के टाॅप्स, साेने चांदी के जेवरात पर 5 दिन।
  • रबर के दस्तानों पर 8 घंटे।
  • एल्युमिनियम के आइटमाें पर 8 घंटे।
  • लाइट के स्वीच, की बाेर्ड, डेस्क बाेर्ड, हैंडबाेर्ड पर 2 से 3 दिन।
  • प्लास्टिक व स्टील के आइटम पर 2 से 3 दिन।
  • फल व सब्जियों पर 3 दिन।
  • पैकिंग मेटिरियल पर 24 घंटे।
  • कपड़े व अन्य सामानों पर 9 से 12 घंटे तक वायरस का असर रहता है।

ऐसे समझें काैन रिस्क जाेन
1. किसी के करीब 6 फीट दूर रहने से व 45 मिनट से कम समय देते है - लाे रिस्क।
2. मास्क लगाकर फेस टू फेस बात करने पर 4 मिनट से कम - लाे रिस्क।
3. इंडाेर एक्टिविटीज से - हाई रिस्क।
4. रेस्टाेरेंट, समाराेह-शादियाें व सिनेमाघर में जाते हैं - हाई रिस्क।
5. पब्लिक बाथरूम में सतह से संक्रमण का जाेखिम - हाई रिस्क।
6. बिना दूरी के वर्किंग प्लेस, स्कूल में या मीटिंग में शामिल होते है - वेरी हाई रिस्क।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

    और पढ़ें