पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ajmer
  • Water To People Who Have Met Pressure And On Time; The Legislator Told The Collector Do Not Take The Exam Of The People Who Are Afraid Of Corona

अजमेर में पटरी से उतरी जलापूर्ति:प्रेशर से पूरा और समय पर मिले लोगों को पानी; विधायक ने कलक्टर से कहा-कोरोना से डरे लोगों के धेर्ये की परीक्षा न ले

अजमेर2 महीने पहले
फाइल फोटो

अजमेर में दो दिन में होने वाली जलापूर्ति का अन्तराल तीन से चार दिन तक पहुंच गया है। ऐसे में जल संकट गहराने लगा है। कोरोना से डरे लोगों के धेर्ये की परीक्षा न लें। समय पर पूरा प्रेशर से पानी दें। यह बात अजमेर उत्तर के विधायक वासुदेव देवनानी ने जिला कलक्टर प्रकाश राज पुरोहित को कही।

देवनानी कलेक्ट्रेट पहुंचे और कलक्टर को बताया कि अजमेर उत्तर में पानी की व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। 72 से 96 घंटे में जलापूर्ति हो रही है। इससे जल संकट उत्पन्न हो गया है। अत: जलापूर्ति व्यवस्थाओं को पटरी पर लाने के लिए उचित प्रबन्ध किया जाए। देवनानी ने बताया कि कलक्टर ने इस मामले में उचित कार्यवाही करने का भरोसा दिलाया है।

बाद में पत्रकारों से बात करते हुए देवनानी ने कहा कि यह परेशानी अजमेर में ही है। यहां एक दिन में पानी देने के लिए प्रयास तो दूर दो दिन में भी समय पर नहीं दे रहे। जबकि जयपुर को रोजाना पानी दिया जा रहा है। इसको लेकर पूर्व में भी जलदाय विभाग को ज्ञापन दिए गए लेकिन कोई हल नहीं निकला।

एक माह पहले SE को दिया ज्ञापन

विधायक वासुदेव देवनानी, पार्षद सहित अन्य भाजपाइयों ने करीब एक माह पहले अधीक्षण अभियंता को ज्ञापन सौंपकर बताया था कि अजमेर उत्तर के विभिन्न क्षेत्रों में गंभीर पेयजल संकट है। गर्मी का मौसम प्रारम्भ होने के साथ ही पेयजल सप्लाई का अंतराल 48 से बढ़ाकर 84, 96 घंटे तक का हो गया है। इतने लम्बे अंतराल के बाद भी अपर्याप्त मात्रा और कम प्रेशर के साथ की जा रही पेयजल सप्लाई के कारण क्षेत्रवासियों को गर्मी के मौसम में पीने का पानी भी नहीं मिल पा रहा है। अत: क्षेत्र की पेयजल व्यवस्था में सुधार कराते हुए 48 घंटे के अन्तराल से नियमित और पर्याप्त पेयजल आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित कराकर क्षेत्रवासियों को राहत दें।

खबरें और भी हैं...