• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Bansur
  • By Trapping People In The Trap Of Beauty, Used To Collect Huge Amount Of Money By Trapping People For 40 To 55 Years, 4 Including The Woman Arrested

बानसूर में हनीट्रेप मामले का हुआ खुलासा:हुस्न के जाल में फंसाकर 40 से 55 साल के लोगों से वसूलती थी मोटी रकम, महिला सहित 4 गिरफ्तार

बानसूर3 महीने पहले

बानसूर पुलिस ने हनीट्रैप के मामले में एक महिला सहित 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। महिला अपने हुस्न के जाल में फंसाकर अपनी गैंग के सदस्यों के साथ मिलकर मोटी रकम वसूलते थे।

डीएसपी मृत्युजंय मिश्रा ने बताया कि पिछले कुछ महीने से क्षे़त्र में एक गैंग कार्य कर रही है, जो संपन्न परिवार के 40 से 55 साल के पुरुषों को झूठे बलात्कार के मामले में अपने जाल में फंसाकर उन्हें ब्लैकमेल करते हैं और उनसे मोटी रकम वसूल करते हैं। वहीं महिला फोन पर 40 से 55 वर्ष के लोगों से मीठी-मीठी बात कर उन्हें वीडियो कॉल कर अपने हुस्न के जाल में फंसाती है। उन्हें होटल में चाय कॉफी पीने के बहाने बुलाकर उन्हें ब्लैक मेल कर बलात्कार के मामले में फंसाने की धमकी देकर मोटी रकम की मांग करती है। वही इस गैंग के सदस्यों ने अभी तक कई लोगो को निशाना बनाया है।

डीएसपी ने ने बताया कि 25 जून को एक परिवादी ने थाना में आकर मामला दर्ज कराया कि एक महिला मेरे मोबाईल पर 12 जून को फोन कर मुझे प्रेम का झांसा देकर 18 जून को मिलने के लिए मजबूर कर नारायणपुर होटल में बुलाया और होटल के कमरे में काफी पीने के बहाने ले गयी।

वहीं कुछ समय बाद हम दोनों होटल के बाहर आये तथा मैनें उस महिला को नारायणपुर छोड़ दिया। इसके बाद एक व्यक्ति ने इस महिला का पति होना बताकर मुझे फोन पर कहा की तुने मेरी पत्नी के साथ गलत काम किया है। वही युवक को बलात्कार के मुकदमे में फंसाने के पांच लाख रुपये की मांग की गई। वहीं युवक ने आरोपियों के फोन पे पर पांच हजार रुपये डाल दिए, लेकिन युवक बार बार और पैसे देने के लिए फोन करते रहें और बलात्कार के मामले में फसाने की धमकी देते रहें। वहीं परिवादी ने सारी बात पुलिस को बताई और मामला दर्ज करवाया।

पुलिस ने रंगे हाथ किया गिरफ्तार
पुलिस टीम ने मामले की जांच की और टीम गठित कर आरोपियों को रुपये लेते हुए मौके से गिरफ्तार करने की योजना तैयार की गई। आरोपियों द्वारा बार बार परिवादी से धमकी देकर तीन लाख रूपये मांगे जा रहे थे। लेकिन आरोपी बार बार समय व स्थान बदलते रहे। लेकिन पुलिस आरोपियों का पिछा करती रही। वही पुलिस ने 29 जून को आरोपी महिला को 40 हजार रूपये सहित उसके साथी राजपाल पुत्र महावीर प्रसाद जाति अहीर निवासी कांसली सरुंड को मौके पर गिरफ्तार कर लिया, लेकिन 4 आरोपी मौके से भागने में कामयाब हो गए।

वहीं पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू की ओर 3 जुलाई को 2 आरोपियों पुरण नागा पुत्र अमीलाल जाति जाट निवासी चतरपुरा और विश्राम उर्फ बिल्लू पुत्र बलबीर जाति जाट निवासी पृथ्वी पुरा मोहल्ला चतरपुरा को गिरफ्तार कर लिया, हालांकि अभी दो आरोपी महावीर और महिपाल फरार है। पुलिस दोनों आरोपियों की तलाश कर रही है।

खबरें और भी हैं...