पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वैक्सीनेशन के बाद मौत:कोरोना वैक्सीनेशन के बाद बुजुर्ग की हुई मौत, नीमराना के बसई भोपालसिंह में कैंप में हुआ टीकाकरण

बहरोड़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • जहां डॉक्टर नहीं मिलने से बुजुर्ग ने बहरोड़ ले जाते समय दम तोड़ दिया
  • यहां अमीचंद ने घबराहट की बात कही तो परिजन कैंप में पहुंचे

नीमराना सीएचसी में गुरुवार को कोरोना वैक्सीन लगने के कुछ ही घंटे बाद 65 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई। बुजुर्ग को जी घबराने की शिकायत हुई थी। टीकाकरण टीम ने घर जाकर उन्हें इंजेक्शन देकर नीमराना सीएचसी ले जाने को कहा। जहां डॉक्टर नहीं मिलने से बुजुर्ग ने बहरोड़ ले जाते समय दम तोड़ दिया। बहरोड़ सीएचसी में बुजुर्ग का पोस्टमार्टम हुआ है।

टीका लगाने वाली एएनएम ने बताया कि बुजुर्ग को पहले से फेफड़ों का कैंसर था, लेकिन टीका लगाने से पहले उन्होंने खुद को स्वस्थ बताया था। ग्राम बसई भोपाल सिंह निवासी मृतक अमीचंद पुत्र सगरुराम धानक के बेटे प्रदीप ने बताया कि शुक्रवार को गांव के सरकारी स्कूल में कोविड टीका कैंप लगा था। इसमें उन्होंने 65 वर्षीय पिता को शाम 4 बजे टीका लगवाया।

आधे घंटे तक निगरानी रखने के बाद घर ले आए

यहां अमीचंद ने घबराहट की बात कही तो परिजन कैंप में पहुंचे। कैंप से आई मेडिकल टीम ने घबराहट कम करने के लिए एड्रिनल का इंजेक्शन देकर नीमराना सीएचसी ले जाने को कहा। परिजन अमीचंद को लेकर नीमराना के निजी अस्पताल और वहां से नीमराना सीएचसी लेकर पहुंचे। सीएचसी में डॉक्टर नहीं होने की बात कह स्टाफ ने जांच की और मृत बता बहरोड़ ले जाने को कह दिया। परिजन बहरोड़ सीएचसी पहुंचे। जहां डॉक्टरों अमीचंद को मृत घोषित कर पोस्टमार्टम कराया।

एएनएम ने कहा- बुजुर्ग को फेफड़ों का कैंसर था

टीका लगाने वाली एएनएम मधु यादव ने बताया कि अमीचंद ने टीका लगाने से पहले कोई बीमारी नहीं होने की जानकारी दी थी। उसे आधे घंटे तक ऑब्जर्वेशन में भी रखा। इसके बाद वह घर चले गए। आधे घंटे बाद परिजनों ने बताया कि अमीचंद को घबराहट हो रही है। घर जाकर उन्हें एड्रिनल इंजेक्शन लगाया गया। मौत के बाद जानकारी की तो पता चला कि अमीचंद को पहले से फेफड़ों का कैंसर था। उधर, मृतक के बेटे प्रदीप का कहना है कि उसके पिताजी को कोई बीमारी नहीं थी। नीमराना अस्पताल में इलाज नहीं कर बहरोड़ भेजने से रास्ते में मृत्यु हो गई।

शुक्रवार शाम को बसई भोपाल सिंह के लोग एक बुजुर्ग मरीज को लेकर आए थे। उसे कोरोना वैक्सीन लगने की जानकारी दी। बुजुर्ग की स्थिति नाजुक थी। अस्पताल में कोई भी फिजीशियन नहीं होने से बहरोड़ ले जाने को कहा था।
-डॉ. केपी सिंह, सीएचसी प्रभारी, नीमराना

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

    और पढ़ें